ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
ब्लॉग

क्या दिन आ गए हैं, देश यह कामना कर रहा कि गुजरात में कांग्रेस जीत जाए- दिलीप मंडल

नई दिल्ली। गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। पाटीदार आंदोलन के नेता नरेंद्र पटेल ने जहां बीजेपी पर एक करोड़ रुपये ऑफर करने का आरोप लगया है। वहीं शराब विरोधी आंदोलन के नेता अल्पेश ठाकुर कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। हार्दिक पटेल भी जनसभाएं करके बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं। वहीं वरिष्ठ पत्रकार, बहुजन चिंतक और लेखक दिलीप मंडल ने भी भाजपा पर निशाना साधा है। मंडल ने सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर सिलसिलेवार कई पोस्ट लिखी हैं। नीचे पढ़ें-

ये भी पढ़ें- हम तुम्हारी धमकी की पैकेजिंग करके इतना महंगा बेच देंगे कि अफसोस से मर जाओगे-दिलीप मंडल

एक पोस्ट में उन्होने लिखा, संघी इतने घटिया और कमीने निकले कि गुजरात में बीजेपी की हार के लिए मुझ जैसे गैर-कांग्रेसवादी को कांग्रेस की जीत की कामना करनी पड़ रही है। बीजेपी ने देश को नर्क बना दिया है। ऐसे में सोचता हूं कि उससे जो छुटकारा दिलाए, उसका भला। वैसे, कांग्रेस ने गुजरात में बीजेपी की वह नस दबा दी है, जिसके दबने पर उसका वो हाल हो जाता है तो लालू प्रसाद और नीतीश कुमार ने बिहार में किया था।

बीजेपी से खुश कोई नहीं है। कोई नरेंद्र मोदी को चूड़ी दे रहा है, तो जनता उनके रोड शो में पब्लिक कर्फ्यू लगा ले रही है। योगी ने भी गुजरात में खाली सड़कों पर रोड शो किया। बीजेपी जनसभाएं नहीं कर पा रही है। पब्लिक बीजेपी नेताओं को दौड़ा रही है। कारोबारी GST से नाराज हैं। पटेल नाराज हैं कि आरक्षण का वादा करके बीजेपी ने धोखा दे दिया। ओबीसी अलग खफा हैं। दलित ऊना जैसे कांड को भूल नहीं पा रहे हैं
लगता है कि ऊंट पहाड़ के नीचे आ रहा है।

ये भी पढ़ें- दिलीप मंडल के बीस सवाल, जो नरेंद्र मोदी से नहीं पूछता सेल्फी मीडिया

इंडिया टुडे (हिंदी) के पूर्व ग्रुप एडिटर मंडल ने एक अन्य पोस्ट में लिखा, ‘मोदी की मौत उम्मीदों के बोझ तले होगी। इस आदमी ने जो सपने बेचे थे, उनकी डिलिवरी नहीं हो रही है। न भारत भ्रष्टाचार मुक्त बना, न नए रोजगार पैदा हुए, न देश स्वच्छ बना, 200 नए स्मार्ट सिटी नहीं बने, पाकिस्तान से आंतकवादी हमले जारी रहे, कश्मीर उबलता रहा, चीन शरारत करता रहा, महंगाई बढ़ती रही, 2014 के बाद के करप्शन में एक आदमी जेल नहीं गया, अब किसी को मोदी का खौफ नहीं है…
मोदी के पास 2019 में बेचने के लिए क्या है?
गाय?
बूचड़खाने भी कहां बंद हो पाए? बीजेपी नेताओं की पार्टनरशिप में वह भी जारी है.
राममंदिर?
नहीं बना।
गंगा?
मैली की मैली रही।
बुलेट ट्रेन?
नहीं चली.
क्या बेचेंगे मोदी?

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved