ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अर्थजगत

BJP ने फिर उड़ाया किसानों का मजाक- ‘खेती की वजह से नहीं मरता कोई किसान’

जयपुर। देश में किसानों की हालत बद से बदतर हो चुकी है। कर्ज के दबाव में किसान रोजाना आत्महत्या कर रहे हैं और सरकार में बैठे मंत्री अपने असहिष्णुता वाले बयान से किसानों के मौत का मजाक बना रहे हैं। ताजा मामला बीजेपी शासित राजस्थान का है जहां राज्य के कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी कहा कि क्या कोई 40-50 हजार रुपए के लिए मरता है? नहीं बिल्कुल नहीं। राजस्थान में एक भी किसान नहीं है जिसने कृषि की वजह से आत्महत्या की हो। यदि है तो बता दो में राजनीति से सन्यास ले लूंगा।


पढ़ेः ‘स्वामीनाथन आयोग’ की रिपोर्ट लागू करने को लेकर 3 जुलाई से किसानों का देशव्यापी आंदोलन

प्रभुलाल सैनी ने यह बात सीसवाली में एक कृषि महाविद्यालय का उद्घाटन समारोह के दौरान कही। कृषि मंत्री के इस बयान के बाद सियासी माहौल एक बार फिर गर्म हो गया। बता दें कि हाल में ही हाड़ौती में कई किसान खेती में हुए नुकसान और भारी कर्ज की वजह से आत्महत्या कर चुके हैं। जिनमें से दो बारां के ही हैं।


https://youtu.be/lqD2_gnZAB8

पढ़ेः उत्तराखंड के भाजपाई CM ने की कृषि बजट में कटौती, दो किसानों ने की सुसाइड

सोमवार को माता भगवती देवी देव संस्कृति महिला कृषि महाविद्यालय के उद्घाटन समारोह में कृषि मंत्री ने कांग्रेस को खुली चुनौती देते हुए कहा कि कांग्रेस के लोग एक भी ऐसा किसान बता दें, जिसने कृषि के कारण आत्महत्या की हो, तो वह राजनीति से सन्यास ले लेंगे। सैनी ने कहा कि किसानों की मौत दु:खद घटना है, ऐसा नहीं होना चाहिए। इसके रोकथाम के प्रयास होने चाहिए।


पढ़ेः बीजेपी क्यों करती है किसानों से नफरत, ये रहा सबूत…


बता दें कि किसानों पर हो रहे अत्याचार को लेकर किसान अब एक साथ – एक मंच पर बड़े आंदोलन की तैयारी में हैं। इसके लिए देश के 62 किसान संगठन एकत्र हो गए हैं। उन्होंने 3 जुलाई को दिल्ली में जंतर-मंतर पर अनिश्चितकालीन धरने का ऐलान कर दिया है। इसमें देश के कई राज्यों से हजारों किसानों के शिरकत करने का अनुमान है। अपनी दुर्दशा से नाराज किसान इस दौरान नीति आयोग का भी घिराव कर विरोध दर्ज कराएंगे।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved