fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

प्रवीण तोगड़िया: राम मंदिर निर्माण पर ‘डबल स्टैंडर्ड’ रखते हैं मोहन भागवत

parveen togadiya
(Image Credits: Patrika)

प्रवीण तोगड़िया का कहना है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत राम मंदिर निर्माण के लिए डबल स्टैंडर्ड’ दिखा रहें हैं। हाल ही में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने मोदी सरकार से राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में कानून लाने को कहा था। लेकिन कट्टर हिन्दू विचारधारा रखने वाले प्रवीण तोगड़िया का कहना हैं कि, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत मंदिर निर्माण के प्रति अपना दोहरा मापदंड ‘डबल स्टैंडर्ड’ दिखा रहें हैं।

Advertisement

प्रवीण तोगड़िया का कहना है कि जब उन्होनें मोहन भागवत और सरकार से राम मंदिर के निर्माण के लिए बात कही थी तो उनको चुप करवा दिया गया था। और उन्होंने कहा की अब जब 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव नजदीक आने वाले है। और इन राज्यों में भाजपा की हालत ख़राब है तो मोहन भागवत राम मंदिर निर्माण का मुद्दा उठा रहें हैं। उनका ऐसा करना उनके ‘डबल स्टैंडर्ड’ को दिखाता हैं।

प्रवीण तोगड़िया ने शुक्रवार को अमर उजाला से बात की थी और कहा था कि, मोदी सरकार के बनने के बाद उन्होनें शीर्ष लोगों से मिलकर मोहन भागवत से बात की थी तब उन्हें कुछ दिनों के लिए शांत रहने को कहा था। और जब कुछ दिनों के बाद फिर प्रवीण तोगड़िया ने मंदिर निर्माण के लिए आवाज उठायी थी तो उन्हें चुप करवा दिया गया।

उन्होंने कहा कि आज जब चुनाव नजदीक आ गए हैं और भाजपा की केंद्र में और अपने राज्यों में हालत ठीक नहीं है तब इन्हें मदिर की याद आ रही है। भाजपा जनता का विश्वास पाने के लिए मंदिर का मुद्दा उठा रही हैं। बल्कि सच तो यह है की भाजपा सरकार ने केंद्र में और किसानों, छात्रों, बेरोजगारों तथा उद्योग क्षेत्र के लिए बेहद खराब प्रदर्शन किया है। भाजपा मंदिर निर्माण का मुद्दा अपनी कमी छुपाने के लिए उठा रही है।

सरकार ने अयोध्या और आसपास के क्षेत्रों में धारा 144 लगा दी है। प्रवीण तोगड़िया ने कहा की एक तरफ मोहन भागवत अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने के लिए कहते हैं। और दूसरी तरफ राम मंदिर के लिए अहिंसक और लोकतांत्रिक यात्रा निकालने से उनको दिक्कत हैं।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved