ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

शर्मनाक: अस्पताल का बिल चुकाने के लिए मां को बेचनी पड़ी नवजात बच्ची

नई दिल्ली। महिला सुरक्षा, गर्भवती महिलाओं की देखभाल, प्रसव की सुविधा, टीकाकरण इत्यादि के लिए सरकार ने तमाम योजनाओं को चला रखा है लेकिन इन योजनाओं की जमीनी हकीकत क्या है? बड़े-बड़े विज्ञापनों में दिखने वाले इन योजनाओं की सुविधा क्या जरूरतमंदों को समय पर मिल पाती है? और अगर नहीं मिलती तो उसका परिणाम क्या होता है…

मुख्य बातें-

  1. अस्पताल का बिल चुकाने के लिए बेचनी पड़ी बच्ची
  2. आशा कार्यकर्ता ने बच्ची बेचने का दिया सुझाव
  3.  30 जुलाई को दिया था बच्ची को जन्म
  4. नर्सिंग होम ने इस मामले में टिप्पणी करने से किया इनकार

परिणाम यह होता है कि एक संतानहीन दंपति को अपने नवजात बच्ची को 7,500 रुपये में बेचना पड़ता है। जी हां, ओडिशा के केंद्रपाड़ा जिले में एक दंपति को कथित तौर पर अपनी नवजात बच्ची को बिल न चुकाने की स्थिति में 7,500 रुपये में बेचना पड़ा। जरा सोच कर देखिए उस मां के दिल पर क्या बीत रही होगी जिसने अपनी कोख में बच्ची को 9 महीने पाला था।

पढ़ेंः वो उस मां के जिगर का टुकड़ा था जो उसके सामने मांस का लोथड़ा बनके सड़क पर पड़ा था…

दिहाड़ी मजदूरी करने वाले बच्ची के पिता निराकर मोहराना ने गांव की आशा कार्यकर्ता पर आरोप लगाया है कि वो उन्हें एक निजी नर्सिंग होम लेकर गई जिसने बिल चुकाने में असमर्थ दंपति को बच्ची को बेचने का सुझाव दिया। नर्सिंग होम ने इस मामले में टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। मोहराना और उनकी पत्नी राजनगर तहसील के रिघागढ़ गांव के रहने वाले हैं। वह 30 जुलाई को अपने तीसरे बच्चे के जन्म के लिए जिला मुख्यालय अस्पताल गए थे।

https://youtu.be/5GWgqmPPUV4

जो आशा कार्यकर्ता उनके साथ अस्पताल गई थी उसने बाद में उन्हें मनाया कि बेहतर सुविधा के लिए नर्सिंग होम में रेफर हो जाएं। एक अगस्त को गीतांजलि ने एक बच्ची को जन्म दिया।

पढ़ेंः मोदी सरकार दे रही सलाह- स्वस्थ बच्चा चाहिए तो सेक्स-मीट से दूर रहें गर्भवती महिलाएं

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बच्ची के पिता ने कहा ‘‘ मैंने सोचा कि निजी नर्सिंग होम में उपचार निशुल्क होगा जैसे सरकारी अस्पताल में था। लेकिन मुझसे 7,500 रुपये का बिल चुकाने को कहा गया। उस वक्त मेरे पास एक हजार रुपये से कम पैसे थे। अस्पताल अधिकारियों ने कहा कि बिल का भुगतान करने तक वे उन्हें नहीं जाने देंगे।’’ मोहराना ने आरोप लगाया कि अस्पताल अधिकारियों ने उसे प्रस्ताव किया कि पैसों के लिए संतानहीन दंपति को बच्ची को बेच दें।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved