ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

BJP के लिए जनकल्याण से ज्यादा महत्व रखते हैं ध्यान भटकाने वाले मुद्दे- मायावती

mayawati attack rss

लखनऊ। मुख्यमंत्री के ज़िले गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कालेज अस्पताल में मासूमों की मौत पर संवेदना व्यक्त करते हुए बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने योगी सरकार को आड़े हाथों लिया है। मायावती ने कहा कि बीजेपी शासनकाल में जनहित व जनकल्याण की घोर आपराधिक लापरवाही की इस घटना की जितनी भर्त्सना की जाए वह कम है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार की उदासीनता व अनदेखी ने पिछले छः, सात दिनों में ही 60 से अधिक मासूम बच्चों की जान लेकर महिलाओं की गोद उजाड़ देने की घटना दुखद है। इसकी उच्च स्तरीय जाँच होनी चाहिये व पीड़ित परिवार की हर प्रकार से पूरी मदद भी होनी चाहिये।

मुख्य बातें-

  1. बीजेपी के लिए जनकल्याण से ज्यादा ध्यान बाँटने वाले मुद्दे महत्व रखते हैं
  2. राजनीति व पूजा-पाठ आदि से समय निकालकर मुख्यमंत्री ने अस्पताल का दौरा किया फिर भी ऐसी घटना होना दुखद है
  3. बीएसपी नेता घटना पर जाकर करेंगे रिपोर्ट तैयार
  4. बीजेपी नेताओं के लिए तथ्यों को तोड़ना मरोड़ना आसान

मायावती ने कहा कि, चूँकि बीजेपी की सरकारों के लिये व्यापक जनहित व जनकल्याण के मामले ज़्यादा महत्व नहीं रखते हैं। उनके लिये खासकर दलित-विरोधी, पिछड़ा वर्ग व मुस्लिम-विरोधी मामले के साथ-साथ तिरंगा, वन्देमातरम्, मदरसा व एण्टी रोमियो आदि ध्यान बाँटने वाले मुद्दे ज़्यादा महत्व रखते हैं। इसलिये स्वास्थ्य विभाग में इस प्रकार की आपराधिक लापरवाही के लिये विभागीय मंत्री को बर्ख़ास्त करने का मामला मा. मुख्यमंत्री के विवेक पर ही छोड़ देना बेहतर है।

मायावती ने बयान जारी कर कहा कि इतने बड़े पैमाने पर माँओं की गोद उजड़ने की दर्दनाक घटना उस समय हुई है जब प्रदेश के मुख्यमंत्री स्वयं गोरखपुर ज़िले में सरकारी दौरे पर थे। राजनीति व पूजा-पाठ आदि से थोड़ा समय निकालकर सरकारी विभागों के कार्यकलापों की समीक्षा का सरकारी काम भी कर रहे थे। परन्तु इसी दौरान इस प्रकार की सनसनी फैला देने वाली व आश्चर्यचकित कर देने वाली घटना का होना वास्तव में प्रदेश की बीजेपी सरकार की क्षमता व उसकी कार्यप्रणाली की सफलता पर एक नहीं बल्कि एक सौ सवालिया निशान खड़े करता है।

यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि इस दर्दनाक घटना की संवेदनशीलता को गम्भीरता से लेते हुए बीएसपी के तीन सदस्यीय उच्च प्रतिनिधि मण्डल को तत्काल गोरखपुर जाकर अस्पताल का दौरा करने, पीड़ित परिवार को सांत्वना देने तथा उन्हें न्याय पहुँचाने का भरोसा दिलाने का निर्देंश दिया गया है।

https://www.youtube.com/watch?v=1H5-F-I7ak0

बीएसपी उत्तर प्रदेश स्टेट यूनिट के अध्यक्ष रामअचल राजभर, विधानसभा में बीएसपी दल के नेता लालजी वर्मा व क्षेत्र के पार्टी प्रभारी दिनेश चन्द्रा गोरखपुर जाकर घटना की जानकारी प्राप्त कर अपनी रिपोर्ट तैयार करेंगे। क्योंकि बीजेपी के नेतागण सही तथ्यों को तोड़ने-मरोड़ने व जनता को असली मुद्दे से भटकाकर उन्हें गुमराह करने के मामलों में काफी ज़्यादा महारत रखते हैं। वे जनहित की अनदेखी करना, अपनी जिम्मेदारी से भागना और फिर जनता को बहकाना खूब अच्छी तरह से जानते हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=qsz5i7Ytz4c

उन्होंने कहा कि पूर्वी उत्तर प्रदेश में ख़ासकर मुख्यमंत्री के गोरखपुर मण्डल के अन्र्तगत विभिन्न ज़िलों की बहुत बड़ी जनसंख्या जापानी बुख़ार (जापानी इंसेफ्लाइटिस) की बीमारी से काफी लम्बे समय से पीड़ित है। परन्तु उसके सम्बन्ध में भी सरकार की लापरवाही ही अब तक देखने को मिल रही है जो कि बड़ी चिन्ता की बात है। सरकार को इस पर तत्काल जरूरी कार्रवाई करनी चाहिए।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved