ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

योगीराज में खनन माफियाओं का टीम पर हमला, ऊंट छुड़ा ले गए

illigal-mining

आगरा। अपराधियों पर नकेल कसने में योगी सरकार के पसीने छूट रहे हैं। अब चंबल में वन विभाग की टीम अवैध खनन रोकना भारी पड़ रहा है। खनन माफियाओं ने वन विभाग की टीम पर हमला बोल दिया। ऊंटों को छुड़ा ले गए। इस मामले को लेकर वन विभाग ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

ये भी पढ़ें- योगी’राज’ में अपराधियों ने पुलिस का कर दिया ये हाल, तस्वीरें देखकर दंग रह जाएंगे आप

अवैध खनन के माकिया वन विभाग पर हावी हो रहे हैं। इस स्थिति से निपटने के लिए प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी ने पिनाहट क्षेत्र में वार्डन चम्बल सेन्चुरी के नेतृत्व में बडी संख्या में खनन माकियाओं को पकडने के लिए टीम भेजी गई है। वन विभाग की टीम के कारण खनन माकियाओं में हडकम्प मच गया है।

बीती रात वन रक्षक हाकिम सिंह और नंदराम सहित वन विभाग की टीम चम्बल पहुंची तो विप्रावली के बीहड़ में करीब दो दर्जन ऊंट वाले बालू खनन कर रहे थे। जैसे ही टीम ने रोकने का प्रयास किया, तो भारी संख्या में खनन माकिया टीम पर दौड़ पडे। हाथापाई करने लगे। हाथापाई कर अपने ऊंटों को छुडाकर बीहड़ में गायब हो गए।

ये भी पढ़ें- हमें खाना ही पूरा नहीं मिलता, शैंपू- साबुन का क्या करेंगे?

वन विभाग ने खनन माकिया प्रेम सिंह, शिव सिंह, अनूप सिंह, टुण्डे सिंह, शैलेन्द्र, जुगनू सिंह, बन्दे सिंह, छोटे सिंह, नीटू सिंह, कोदल सिंह, निवासीगण बीच का पुरा, लला, धर्मवीर, धर्मेन्द्र, आशाजीत निवासीगण पडुआपुरा, निरंजन, ब्रजेश, ब्रज किशोर, बन्टू निवासीगण देवगण के खिलाफ वन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करने के लिए थाना पिनाहट में तहरीर दी।

पुलिस ने वन विभाग की तहरीर पर खनन माफियाओं के खिलाफ थाना पिनाहट में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved