ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

अपूर्णीय क्षति: बाबा साहब को बौद्ध धर्म की दीक्षा देने वाले भिक्षु प्रज्ञानंद नहीं रहे…

pragyanand passes away

pragyanand लखनऊ।

बाबा साहब भीमराव अंबेडकर को दीक्षा देने वाले बौद्ध भिक्षु प्रज्ञानंद का गुरुवार को निधन हो गया। उन्हें सोमवार को सांस लेने में तकलीफ के चलते केजीएमयू में भर्ती कराया गया था। 90 वर्षीय प्रज्ञानंद को फेफड़ों में संक्रमण की शिकायत थी और उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। आज सुबह 11.45 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली।

गौरतलब है कि 14 अक्टूबर, 1956 को बाबा साहेब ने हिंदू धर्म की कुरीतियों का विरोध करते हुए बौद्ध धर्म अपना लिया था। नागपुर स्थित दीक्षाभूमि में बौद्ध भिक्षु चंद्रमणि और प्रज्ञानंद समेत सात अन्य बौद्ध भिक्षुओं ने उन्हें दीक्षा दिलायी थी। इन सभी में अब मात्र प्रज्ञानंद ही जीवित थे।

मूल रूप से श्रीलंका के निवासी प्रज्ञानंद लखनऊ के रिसालदार पार्क के बुद्ध विहार में रह रहे थे। बाबा साहेब ने 1948 और 1951 में लखनऊ का दौरा किया था। इसी दौरान उन्होंने प्रज्ञानंद से बौद्ध धर्म अपनाने की इच्छा भी जाहिर की थी। बाद में उन्होंने नागपुर जाकर अपनी पत्नी के साथ बौद्ध धर्म को अपना लिया था।

 

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved