fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

राजस्थान सरकार ने शिक्षकों पर किया लाठी चार्ज, गुस्साएं शिक्षको ने दी सामूहिक गिरफ्तारियां

sankul_protest

राजस्थान के जयपुर में शिक्षको ने शिक्षा संकुल के विभिन मांगों को लेकर प्रदर्शन करते करते अचानक बेकाबू हो गए। उनको काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। पुलिस द्वारा लाठी चार्ज करने से महिला शिक्षको समेत कई शिक्षक घायल हो गए।

Advertisement

दरअसल (मंगलवार 2 अक्टूबर) शिक्षा संकुल के बाहर शिक्षको ने भी प्रदर्शन किया। शिक्षकों का समूह रैली के रूप में गाँधी सर्कल तक आ रहा था लेकिन अनुमति न होने के कारण पुलिस ने उन्हें रैली निकालने से मना कर दिया। इसी बात को लेकर बवाल होने लगा। शिक्षक और पुलिस का आमना सामना हो गया और ऐसा देखकर पुलिस ने उन पर हल्का बल प्रयोग किया। ऐसा होने पर नाराज शिक्षक ने सामूहिक गिरफ़्तारी देने लगें। पुलिस के बल प्रयोग से कई शिक्षको को चोटें भी आई है।

sankul_3502520_835x547-m

मौके पर फिलहाल पुलिस बल भी तैनात है। ये रैली राजस्थान शिक्षा संघ (राष्ट्रीय) के नेतृत्व में निकाली जा रही है।

बता दे की राजस्थान शिक्षा संघ (राष्ट्रीय) और रेसला शिक्षा संगठन के बैनर तलें शिक्षक आज उपवास पर है। रेसला के प्रदेश महमंत्री सुमेर खटाना ने बताया कि गाँधी जयंती के उपलक्ष्य में रेसला शिक्षा संकुल उपवास रखकर महापड़ाव की शुरुआत कर रहा है।


वही दूसरी और राजस्थान शिक्षा संघ (राष्ट्रीय) के प्रदेशाध्य्क्ष  प्रहलाद शर्मा का कहना है कि, शिक्षक गाँधी जी की प्रतिमा के समक्ष उपवास पर बैठकर अपना विरोध जतायेंगें। अपनी मांगों को मनवाने के लिए शिक्षक उपवास रखकर गाँधीवादी तरीके से अपने महापड़ाव की शुरुआत कर रहे हैं।

sankul protest

शिक्षकों का कहना है की राज्य सरकार लगातार वेतन में कटौती, वेतन रिकवरी, न्यू पेंशन और संख्यात्मक अनुपात जैसे मुद्दों पर व्याख्याताओं के हितों पर कुठारघात कर रही है। शिक्षकों का कहना है कि उन्होनें सरकार से कई बार वार्ता करने का प्रयास किया, धरना दिया , क्रमिक अनशन भी किया लेकिन सरकार को जरा सा भी फर्क नहीं पड़ा।

इसी कारण प्रदेश के 52000 व्याख्याताओं को अपनी लड़ाई फिर से लड़नी पड़ रही है।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

0
To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved