ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

शिवराज सिंह ने कन्यापूजन के बाद आदिवासी छात्राओं को दिए रुपये, मैडम ने पैसे के साथ कपड़े भी उतरवा लिए

teacher snatch rupees and clothes from adivasi girls

भोपाल। कोलारस चुनाव को लेकर बीजेपी और कांग्रेस के बीच कशमकश बढ़ती जा रही है। चुनाव में एक दूसरे को पछाड़ने में दोनों दल कसर नहीं छोड़ रहे हैं। वहीं बीते नौ दिसम्बर को शिवपुरी के सेसई ग्राम में हुए सहरिया सम्मेलन में सीएम शिवराज सिंह ने आदिवासी कन्याओं के पैर पूजकर उन्हें उपहार स्वरूप कपड़े और कुछ पैसे दिए थे।

आरोप है कि ये उपहार और राशि अधिकारियों ने इन कन्याओं से कार्यक्रम होते ही वापस ले ली। हालांकि बीजेपी और सरकारी अफसर इस घटना का बचाव कर रहे हैं, लेकिन अब इस मामले में कांग्रेस ने उन कन्याओं और उनके परिजनों के वीडियो जारी किए हैं।

पूजन के बाद कन्याओं का अपमान
प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता केके मिश्रा ने नौ दिसम्बर को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के शिवपुरी के ग्राम सेसई में संपन्न सहरिया सम्मेलन में आदिवासी कन्याओं के पैर धोकर किए गए पूजन और उन्हें उपहार में दी गई धनराशि और वस्त्र कार्यक्रम के बाद वापस लिये जाने का गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने इस गंभीर घटना को नकारते हुए बचाव में आए अधिकारियों और भाजपा संगठन के झूठ को वीडियो फुटेज जारी करते हुए भ्रष्ट दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की है।

‘पैसे लेकर कपड़े भी उतरवा लिए गए’
केके मिश्रा ने यह भी आरोप लगाया है कि इस दौरान जिन आदिवासी कन्याओं को दी गई 21-21 सौ रुपये की धनराशि के लिफाफे और जो साफ सुथरे कपड़े पहनाये गये थे, मुख्यमंत्री के जाने के बाद तत्काल उक्त धनराशि से 2000 रुपये निकाल लिए गये, मात्र 100-100 रुपये के लिफाफे दिये गये और पहनाए गये वस्त्र भी उतरवा कर वापस ले लिये गये, जिसका खुलासा इन छोटी-छोटी बच्चियों के परिजनों ने ही किया है।

केके मिश्रा ने बताया ‘कथित मामा’
केके मिश्रा ने कहा कि बच्चियों के ‘कथित मामा’ कहे जाने वाले मुख्यमंत्री की मौजूदगी में हुए इस कार्यक्रम का हश्र एक बड़े धोखे के रूप में तब्दील होगा किसी ने सोचा भी नहीं होगा।

कन्यादान योजना में नकली आभूषण
केके मिश्रा ने कहा कि इसके पूर्व भी मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत आयोजित विवाह समारोह के दौरान वधुओं को नकली आभूषण दिये जाने का मामला गत दिनों सुर्खियों में आया था। ज्वेलर्स के खिलाफ राजधानी भोपाल के एक थाने में एक एफआईआर भी दर्ज हुई थी, किन्तु सारे भ्रष्टों ने मिलकर इस मामले को भी दबा दिया। अपनी भांजियों के साथ ही ऐसा क्यों, किसलिए और किसके संरक्षण में हो रहा है, मुख्यमंत्री को सार्वजनिक करना चाहिए। यहीं नहीं इस घटना के दोषियों को कब और कितनी सजा मिलेगी यह भी सुनिश्चित हो।

https://www.youtube.com/watch?time_continue=87&v=oIiLaAikiSw

कन्यादान योजना में नकली आभूषण
केके मिश्रा ने कहा कि इसके पूर्व भी मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत आयोजित विवाह समारोह के दौरान वधुओं को नकली आभूषण दिये जाने का मामला गत दिनों सुर्खियों में आया था। ज्वेलर्स के खिलाफ राजधानी भोपाल के एक थाने में एक एफआईआर भी दर्ज हुई थी, किन्तु सारे भ्रष्टों ने मिलकर इस मामले को भी दबा दिया। अपनी भांजियों के साथ ही ऐसा क्यों, किसलिए और किसके संरक्षण में हो रहा है, मुख्यमंत्री को सार्वजनिक करना चाहिए। यहीं नहीं इस घटना के दोषियों को कब और कितनी सजा मिलेगी यह भी सुनिश्चित हो।

साभार- इनाडु इंडिया

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved