ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला को बांस से लटका कर ले जाना पड़ा अस्पताल

भुवनेश्वर। जिस देश में गाय को भी एंबुलेंस की सुविधा प्राप्त हो उस देश में एक प्रेग्नेंट महिला को 16 किलोमीटर तक बांस में लटका कर अस्पताल ले जाना पड़ता है। पूरे देश में महिला सुरक्षा और सम्मान की बड़ी-बड़ी बाते हो रही है लेकिन जमीनी हकीकत बहुत ही भयानक है। जहां एक तरफ बुलेट्र ट्रेन की बात हो रही है वहीं दूसरी तरफ सड़क के आभाव में गर्भवती महिला को जानवरों की तरह टांग कर ले जाया जा रहा है।

मुख्य बातेंः

  1. गर्भवती महिला को बांस से टांग कर ले जाया गया अस्पताल
  2. सरकारी एंबुलेंट ही महिला को बीच सड़क छोड़ भाग गया
  3. प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला को 16 किलोमीटर बांस से लटका कर ले जाना पड़ा

ये दर्दनाक घटना ओडिशा के कालाहांडी जिले की है जहां गर्भवती महिला को उसके घरवाले सरकारी अस्पताल में बांस से लटकाकर ले गए। दरअसल महिला को पहले सरकारी एंबुलेंस अस्पताल ले जाया जा रहा था लेकिन बारिश की वजह से रास्ते पर गिर गया था। सरकारी अस्पताल के एंबुलेंस ड्राइवर ने महिला को उसी हालत में बीच सड़क पर छोड़ दिया और गाड़ी लेकर चला गया।

पढ़ेंः योगी ‘राज’: एंबुलेंस के लिए घंटों कराहती रही गर्भवती, चालकों ने बताया तेल नहीं है

https://youtu.be/LY9D43WWL68

महिला भयानक पीड़ा से गुजर रही थी और ऐसे में उसे अकेला छोड़ कर भाग जाना बेहत ही असहिष्णु रवैया था। महिला की हालत लगातार बिगड़ती जा रही थी। फिर उसी हालत में गर्भवती महिला के घरवालों को 16 किलोमीटर तक बांस के ऊपर एक चादर में बांधकर अस्पताल ले जाना पड़ा। अस्पताल पहुंच महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया और राहत की बात ये है कि मां और बच्ची दोनों स्वस्थ हैं।

पढ़ेंः स्वास्थ्य सेवाओं को ‘प्राइवेट प्लेयर्स’ को देने की तैयारी में नीति आयोग और स्वास्थ्य मंत्रालय

दी क्विंट में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले में जब कालाहांडी के सीडीएमओ से सवाल पूछा गया तो उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि- हमने सभी सुविधाओं का इंतज़ाम किया था, लेकिन दूरदराज के क्षेत्रों में कनेक्टिविटी खराब होने की वजह लोगों तक पहुंचने में असमर्थ हैं।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved