ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

बच्चों की मौत पर पत्रकारों को फटकारते नजर आए सीएम योगी

नई दिल्ली। गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में पांच दिन के अंदर 60 से अधिक बच्चों की मौत के बात सरकार नींद से जाग चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज (13 अगस्त) केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जेपी नड्डा के साथ बीआरडी अस्पताल पहुंचे। सीएम योगी ने प्रशासनिक अधिकारियों से हालात का जायजा लिया और इंसेफेलाइटिस वार्ड का दौरा किया। अस्पताल का जायजा लेने के बाद योगी आदित्यनाथ पत्रकारों से मुखातिब हुए और मीडिया पर गलत रिपोर्टिंग का आरोप मढ़ दिया।

मुख्य बातें-

  1. योगी आदित्यनाथ ने किया अस्पताल का दौरा
  2. सीएम ने पत्रकारों पर लगाया गलत रिपोर्टिंग का आरोप
  3. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा ऑक्सीजन की कमी  से नहीं हुई मौत

सीएम ने पत्रकारों को सही से रिपोर्टिंग करने की नसीहत दी।  उन्होंने कहा ‘आप सभी लोग सरकारी अस्‍पतालों में जाइए। बाहर से रिपोर्टिंग नहीं, मौके पर जाइए वार्ड में। मैं आपको इस बात की सुविधा देने जा रहा हूं। प्रत्‍येक पत्रकार को कैमरा के साथ भीतर जाने की इजाजत होगी।’

PC-जनसत्ता

पढ़ेंः घटना के दो दिन बाद गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी, बोले- मुझसे संवेदनशील कोई नहीं

सीएम योगी ने आगे कहा, ‘केंद्र व राज्‍य के कई अधिकारी गोरखपुर में मौजूद हैं। प्रधानमंत्री जी ने पूरी मामले की जानकारी लेने के लिए कुछ स्‍तरीय चिकित्‍सकों की टीम यहां भेजी हैं। उन्‍होंने अपना कार्य भी प्रारम्‍भ कर दिया है। इंसेफेलाइटिस के खिलाफ शुरू से हम लोग लड़ते रहे हैं। सरकार बनने के बाद हमने जेई वैक्‍सीनेशनल ड्राइव चलाकर लाखों बच्‍चों को इंजेक्‍शन लगाए गए। सीएम बनने के बाद यह बीआरडी मेडिकल कॉलेज का मेरा चौथा विजिट है। मैं हर बार इंसेफेलाइटिस वार्ड का निरीक्षण करता हूं।’

पढ़ेंः इधर गोरखपुर में 60 बच्चे मार दिए गए, उधर मंत्री महोदया के साथ खिलखिला रहे सीएम साहब

जैसा की मीडिया रिपोर्ट में यह बात सामने आई थी कि बीआरडी अस्पताल में कई बच्चों की मौत ऑक्सीजन न मिलने की वजह से हई है लेकिन आज सीएम योगी और उनके स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने मीडिया के सामने यह बात जोर देकर कही कि गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में किसी बच्चे की मौत ऑक्सीजन की कमी के चलते नहीं हुई।

पढ़ेंः भाजपा सांसद साक्षी महाराज बोले- यह मौत नहीं नरसंहार है

योगी आदित्यनाथ और सिद्धार्थनाथ सिंह ने बीते तीन वर्षो के दौरान अगस्त महीने में होने वाली बच्चों की मौतों का आंकड़ा देते हुए दावा किया कि ये मौतें जापानी इनसेफलाइटिस जैसी मच्छर जनित बीमारियों के कारण हुई हैं।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved