ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

BSP की रैली के आगाज के साथ ही मीडिया ने शुरू किया अपना खेल, खबरें गायब

meerut

मेरठ। बीएसपी ने आज मेरठ में विशाल रैली की। इसमें पांच लाख लोगों के पहुंचने का लक्ष्य पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा किया गया था। लाखों की तादात में लोग पहुंचे भी लेकिन उम्मीद के मुताबिक इस रैली को मीडिया कवरेज नहीं मिल पाया और रैली की खबरें गायब रहीं।

हालांकि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। विधानसभा चुनावों में भी बीएसपी को मीडिया ने दूसरी पार्टियों की अपेक्षा काफी कम कवरेज दिया था। अगर आज की रैली की खबर खोजने आप बड़े मीडिया संस्थानों की वेबसाइट्स पर जा रहे हैं तो वहां से निराशा ही मिलेगी।

मायावती ने इस रैली में सहारनपुर हिंसा को लेकर बड़ा बयान दिया। यह बयान राजनीतिक गलियारों सहित मीडिया में भी सनसनी पैदा करने वाला था। इसके बावजूद मीडिया ने शायद मायावती के भाषण से टीआरपी लेने के बजाय खबर को दबाना ही उचित समझा।

पढ़ें- मेरठ रैली में बोलीं मायावती- हमेशा आरक्षण विरोधी मानसिकता वाली पार्टी रही है बीजेपी

आमतौर पर खबरों को मेन पेज पर कवर देने वाले नवभारत टाइम्स ने मायावती के भाषण का एक हिस्सा यूपी सेक्शन में खबर के नाम पर लगाया है। वहीं दैनिक भास्कर को सिर्फ गर्मी की चिंता थी। इसलिए दैनिक भास्कर ने मंच पर लगे एसी की बड़ी चर्चा की है। साथ ही पूरी खबर को एसी और मायावती के रिएक्शन तक समेट दिया है। इसमें आपको मायवती के भाषण की एक लाइन नहीं मिलेगी। सिर्फ लास्ट में एक लाइन है……

कार्यक्रम के दौरान मायावती ने अपना पूरा भाषण 2019 के लोकसभा चुनाव का लेकर फोकस रखा।

पढ़ें- शब्बीरपुर हिंसा के बहाने बीजेपी मेरी हत्या कराना चाहती थी- मायावती

आपको बता दें कि बीएसपी से मीडिया की एक दूरी हमेशा देखने को मिलती रही है। यूपी चुनावों से पहले बीएसपी ने पार्टी फंड में पैसा जमा कराया था जोकि अन्य पार्टियों की तुलना में बहुत ही कम था लेकिन उसे इस तरह पेश किया गया कि पार्टी के बारे में लोग गलत धारणा बना लें। लेकिन जब तक इस पैसे के बारे में क्लीनचिट मिली तब तक बहुत देर हो चुकी थी। ऐसा ही कुछ अंदाजा आज की मीडिया कवरेज को लेकर लगाया जा सकता है।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved