ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

सृजन के दुर्जनों का विसर्जन: भागलपुर में उमड़ा जलसैलाब, तेजस्वी ने किए सिलसिलेवार हमले

tejashwi-yadav

भागलपुर। बिहार के लाखों करोड़ों रुपये के बहुचर्चित सृजन घोटाले को लेकर आरजेडी लगातार हमलावर है। इसी क्रम में आरजेडी ने भागलपुर में ‘सृजन के दुर्जनों का विसर्जन’ यात्रा शुरु की है। इसी के तहत सृजन घोटाले के गढ़ भागलपुर में जनसभा आयोजित की गई। जिसमें बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। वहीं आरजेडी़ नेता तेजस्वी यादव ने सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर अपने आधिकारिक पेज पर एक पोस्ट लिखी है जिसमें उन्होने कई सवाल पूछे हैं। नीचे पढ़ें-

भागलपुर मे “सृजन घोटाला के दुर्जनों के विसर्जन” के लिए आयोजित जनसभा में उमड़े जनसैलाब ने हमारी हौसला आफजाई की। नीतीश कुमार जी ही सृजन घोटाले के असली सृजनकार और घोटालेबाजों के सृजनहार है।

• नीतीश जी सिर से लेकर पैर तक सृजन घोटाले में धँसे हुए है। इसलिए गिड़गिड़ा कर मोदी जी के सामने पलटी मार जनादेश का अपमान कर अनैतिक सरकार बना ली।
• नीतीश जी विकास पुरुष नामक फ़र्ज़ी चादर ओढ़े हुए है इस चादर के नीचे एक बहुत बड़ा भ्रष्टाचारी पुरुष छुपा हुआ है।
• नीतीश जी, अपने व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए जनादेश और आवाम को दग़ा देने वाले सबसे बड़े सामाजिक भ्रष्टाचारी है।
• जनता को दग़ा देने वाला नीतीश जी से बड़ा कोई राजनीतिक भ्रष्टाचारी इस संसार में पैदा नहीं हुआ?
• नैतिक भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह है नीतीश कुमार। अनैतिकता के कुकर्मों से भरी पड़ी है इनकी राजनीति।
• सुशील मोदी ख़ुद मान रहे है मेरे वितमंत्री रहते मेरी बहन की सृजन घोटाले में भागीदारी रही।ये ख़ुद इसमें शामिल है और नीतीशजी को हिस्सा देते है।
• मैंने नीतीश जी को घोटाला नहीं करने दिया। सबसे बड़ी पार्टी थे। इसलिए नीतीशजी #सृजन घोटाले के अपने पुराने साथियों संग घोटाला करने दुबारा मिल गए।
• अगर सृजन घोटाला नहीं होता तो आज नीतीश जी BJP के साथ मजबूरी में नहीं होते। एक दूसरे का काला पाप छिपाने साथ आए है नीतीश जी और सुशील मोदी।
• सृजन घोटाला सीधे तौर पर नीतीश जी के संरक्षण मे हुआ है फिर CBI ने अबतक FIR क्यों नही की? NDA मे जाने की क्या यही डील थी?

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved