Switch to English

National Dastak

x

भाजपा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पुलिस ने हिरासत में मार डाला युवक

Created By : एजेंसियां Date : 2016-12-31 Time : 12:34:40 PM


भाजपा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पुलिस ने हिरासत में मार डाला युवक

भोपाल। बीजेपी शासित मध्य प्रदेश की पुलिस एक बार फिर सवालों के घेरे में है। पुलिस की हिरासत में युवक की पिटाई के बाद मौत हो गई। बताया जा रहा है कि पुलिस युवक को गंभीर हालत में जबलपुर के मेट्रो हॉस्पिटल ले जा रही थी, लेकिन बीच रास्ते में उसकी मौत हो गई।

 

युवक के परिजनों ने पुलिस पर हिरासत के दौरान बेरहमी से पिटाई का आरोप लगाया हैं। 

 

पढ़ें-मोदी के गुजरात मॉडल की सच्चाईः पुलिस ने की दलित युवक की हत्या


पुलिस हिरासत में युवक मौत के बाद यहां अफरातफरी का माहौल है। परिजनों ने आरोप लगाया है कि पुलिस हिरासत में पिटाई के कारण युवक की मौत हुई है। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार मृतक का नाम देवलाल है। कोतवाली क्षेत्र के सिधौली गांव में वर्ष 2013 में रामसुजान की हत्या की गुत्थी सुलझाने के उद्देश्य से पूछताछ के लिये पुलिस उसे गिरफ्तार करके डिंडौरी थाने लेकर आई थी।

 


लेकिन शनिवार सुबह गंभीर हालत में उपचार के लिये जबलपुर ले जाते समय युवक की मौत हो गई। युवक को मेट्रो हॉस्पिटल जबलपुर ले जाया जा रहा था। युवक के परिजनों ने पुलिस पर युवक की बेरहमी से पिटाई का आरोप लगाया है। वहीं, पुलिस इस मामले में अभी कुछ भी कहने से बच रही है।


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

एयर इंडिया के कर्मचारी को चप्पल से पीटने वाले शिवसेना के सांसद नहीं भर पाएंगे उड़ान

महिला ने कथावाचक पर लगाए सम्मोहित कर रेप के आरोप

भाजपा शासित झारखंड के 4 जिलों के 20-27% बच्चों के मंदबुद्धि होने का खतरा- रिपोर्ट

यूपी की राह पर दिल्लीः अवैध बूचड़खाने बंद कराने का काम शुरू 

झारखंड के सभी बूचड़खानें बंद करने की मांगः संघ

विधि आयोग ने सरकार से की भारत में मौत की सजा खत्म करने की सिफारिश

बुलंदशहरः राह चलती महिला से लूटी चेन, दो युवकों का भी फोन छीना

महाराष्ट्र: खराब फसल और कर्ज का बोझ झेल नहीं पाए किसान, दो ने मौत को लगाया गले

योगी एक्शनः यूपी में 12 अवैध स्लॉटरहाउस सील, 40 लोग गिरफ्तार 

ईवीएम घोटाला: बहुजन क्रान्ति मोर्चा करेगा उग्र राष्ट्रव्यापी आंदोलन

13 साल में MP की चैरवी पंचायत तक विकास नहीं पहुंचा पाई BJP, झोली में डालकर ले जाने पड़ते हैं मरीज

ईवीएम गड़बड़ी मामला: सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को नोटिस देकर मांगा जवाब