Switch to English

National Dastak

x

बिलासपुर की दलित युवती को को न्याय दिलाने उमड़ा शहर

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2017-01-10 Time : 11:35:01 AM


बिलासपुर की दलित युवती को को न्याय दिलाने उमड़ा शहर

बिलासपुर। मस्तूरी में हुए दलित युवती से दुष्कर्म व हत्याकांड के विरोध में सोमवार को शहर उबल उठा। इस मामले में आरोपियों को गिरफ्तारी की मांग को लेकर शहर में प्रदर्शन करने के साथ ही आम आदमी पार्टी और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने कलेक्टोरेट पहुंचकर ज्ञापन दिया। वहीं दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ने मस्तूरी पहुंचकर थाने का घेराव किया। इस दौरान आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की गई। 

 

ज्ञात हो कि ग्राम देवगांव निवासी ममता खाण्डेकर की शुक्रवार रात जयराम नगर स्थित मेडिकल स्टोर्स से लौटते समय अज्ञात लोगों ने दुष्कर्म करके हत्या कर दी थी। शनिवार सुबह ग्राम खूडूभाठा में ममता का शव मिला। बताया जाता है कि युवती के सिर और प्राइवेट पार्ट में भी चोट के निशान हैं। इससे हत्या की पुष्टि हो चुकी है। इस जघन्य हत्याकांड का विरोध शहरभर में हो रहा है। सोमवार को आम आदमी पार्टी और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने कलेक्टोरेट पहुंचकर ज्ञापन दिया। 

 

पढ़ें- दलित युवती से बलात्कार, अखिलेश यादव की पुलिस मामले को दबाने की कर रही कोशिश

 

उन्होंने इस घटना की निंदा करते हुए आरोपियों को पकडऩे की मांग की। वहीं नागरिक संघर्ष समिति के सदस्यों ने घटना की निंदा की। उन्होंने ने भी नेहरु चौक पहुंचकर प्रदर्शन किया। संगठनों ने मस्तूरी में हुए रेप और हत्या की घटना की तुलना दिल्ली में हुए दामिनी कांड से की। संगठनों का कहना था कि दिल्ली में दामिनी के रेप होने के बाद देशभर में प्रदर्शन किया गया था। बिलासपुर में भी इसी तरह की घटना हुई है। आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की गई है। 

 

पढ़ें- ब्राह्मण के साथ होना पड़ेगा हमबिस्तर- लड़की को ज्योतिषी की सलाह


नागरिक संयुक्त संघर्ष समिति की मांगें....
1. ममता के हत्यांरो और बलात्कारियों को शीघ्रातिशीघ्र गिरफ्तार किया जाये, अपराधियों पर बलात्कार की धारा 376 व यदि मृतिका नाबालिग है तो POCSCO एक्ट भी लगाया जायें।

2. ममता के परिवार को सुरक्षा प्रदान की जावे ताकि उनपर दबंग लोग जबरन दबाब न बना पायें।

3. परिजनों को बीस लाख का मुआवजा दिया जाये।

4. ममता घर में कमाने वाली एक मात्र सदस्य थी जिससे उसका परिवार चलता था, अत: उनके परिवार में किसी एक को शासकीय नौकरी दी जाए।

5. बिलासपुर के पूर्व आई जी पवन देव पर कड़ी कानूनी कार्यवाही की जावे,न की उनकी पदोन्नति की जाए।

 


 

 


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

अंतर-राज्‍य परिषद की स्‍थायी समिति की 11वीं बैठक की अध्‍यक्षता करेंगे राजनाथ

यूपी में शराबबंदी आंदोलन, योगी सरकार क्या करेगी

मनोज सिन्हा और बृजेश करा सकते हैं मेरी हत्या- मुख्तार अंसारी

महिला होने की वजह से भारत में मेरी मां को जज नहीं बनने दियाः US डिप्लोमैट निक्की हेली

सरकार ने माना, औरत को मर्दों से कम मिलता है वेतन

मोदी सरकार ने माना: फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनवाकर सवर्णों ने लूटीं हजारों नौकरियां, देखिए सबूत

यूपी पुलिस बूचड़खाने बंद कराने में व्यस्त ! छेड़खानी पर कार्रवाई न होने से युवती ने की आत्महत्या

सनसनीखेज खुलासा: तो इसलिए स्टूडेंट्स की सीटें खा गई भारत सरकार

मोदी-योगी के नाम पर थानों का 'निरीक्षण'  करने पहुंचे विधायक के बेटे

मुस्लिमों के रोजगार को लेकर ममता बनर्जी ने यूपी सरकार पर साधा निशाना

अफ्रीकी छात्रों पर हमले को लेकर AASI नाराज, अफ्रीकी संघ से करेगी भारत के साथ व्यापार कटौती की मांग

राजनीतिक मुद्दों को छोड़ गंगा सफाई की बात करें यूपी सरकारः NGT