Switch to English

National Dastak

x

भारत की पहली अरबी कैलीग्राफ़ी प्रतियोगिता 12 को

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2017-02-08 Time : 15:48:04 PM


भारत की पहली अरबी कैलीग्राफ़ी प्रतियोगिता 12 को

नई दिल्ली। भारत में पहली बार अरबी कैलीग्राफ़ी प्रतियोगिता यहाँ ऐवाने ग़ालिब में 12 फ़रवरी को होगा जिसमें देश भर के अरबी ख़त्तात (सुलेखी) भाग लेने के लिए दिल्ली पहुँच रहे हैं। प्रतियोगिता दिल्ली की जामा मस्जिद में दरगाह आसार शरीफ़ और फ़ांडेशन मलेशिया के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम के आयोजक सैयद फ़राज़ आमिरी ने यहाँ पत्रकारों को बताया कि भारत के इतिहास में पहली बार अरबी कैलीग्राफ़ी प्रतियोगिता होगी। 


आमिरी ने कहा कि भारत में दस लाख से अधिक हाफ़िज़ (क़ुरान कंठस्थ मौलवी) और करोड़ों लोग अरबी भाषा और संस्कृति से परिचित हैं लेकिन फिर भी भारत में इस तरह की प्रतियोगिता का नहीं होना वाक़ई आश्चर्य की बात है। उन्होंने कहा कि यूनेस्को की विश्व धरोहर क़ुतुब मीनार पर हर तरफ़ जो आयतें आप देखते हैं दरअसल वह पच्चीकारी में अरबी कैलीग्राफ़ी का ही फ़न है। भारत में इस कला को पुन विकसित करने के लिए दरगाह आसार शरीफ़ ने फ़ाउंडेशन मलेशिया के साथ मिलकर मुहिम शुरू की है जिसके तहत इस 12 फ़रवरी को ऐवाने ग़ालिब में देश के अरबी ख़त्तात्ती के प्रतियोगियों को बुलाया गया है। 

 

पढ़ें- दिल्ली उच्च न्यायालयः महिलाओं को मंदिर में आने से नहीं रोका जा सकता


इसमें दो तरह के पुरस्कार रखे गए हैं। पुरुष और महिला वर्ग में तीन तीन सर्वश्रेष्ठ प्रतिभागियों को पुरस्कार स्वरूप अरबी भाषा की पढ़ाई के लिए मलेशिया भेजा जाएगा। दरगाह आसार शरीफ़ के ही सज्जादानशीन सैयद एहराज़ आमिरी ने कहाकि यह वाक़ई भारत के लिए गौरव की बात है कि वह पहली बार इस प्रतियोगिता के आयोजक बन रहे हैं। प्रतियोगिता के दिन शाम को ऐवाने ग़ालिब में ही मीलाद (पैग़म्बर हज़रत मुहम्मद के यश गीत) का भी कार्यक्रम रखा गया है।


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

शर्मनाक: योगी आदित्यनाथ के जाते ही बच्चों से छीन लिया गया 'बस्ता'

MP गजब हैः शाही शादी में करीब 400 सरकारी टीचर्स को बना दिया वेटर

सनसनीखेज: BSP नेता और उसके पूरे परिवार की हत्या, सबको जमीन में दफनाया

योगी सरकार को मीट कारोबारियों ने दी खुली चेतावनी, जानकर होश उड़ जाएंगे...

योगी सरकार में केशव प्रसाद मौर्य भी हैं जुल्म-ज्यादती के शिकार: मायावती

सड़क मार्ग से सहारनपुर जा रहीं मायावती, नेशनल दस्तक पर देखिए हर मिनट का अपडेट

मेरठः रोजी-रोटी को तरस रहे मीट विक्रेताओं ने किया भूख हड़ताल

सहारनपुर: चार बार उत्तर प्रदेश की CM रहीं मायावती को क्यों नहीं दी गई हेलिपैड की परमीशन?

बहनजी के 'हेलीकॉप्टर' से मोदी और योगी को क्यों लगता है डर ?

बहनजी सड़कमार्ग से सहारनपुर रवाना, सहारनपुर में जबरदस्त तैयारी

बहनजी ने खुद खोला राज, क्यों देर से जा रही हैं सहारनपुर

पत्थरबाजों की जगह जीप पर अरुंधति रॉय को बांधा जाना चाहिए: परेश रावल