National Dastak

x

छात्रा मर्डर केस: छात्रावास पहुंचे विधायक ने छात्राओं से पूछे आपत्तिजनक सवाल

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2017-01-11 Time : 14:48:54 PM

छात्रा मर्डर केस: छात्रावास पहुंचे विधायक ने छात्राओं से पूछे आपत्तिजनक सवाल

नई दिल्ली। हाल ही में बिहार के हाजीपुर के दिग्घी मजीराबाद स्थित अंबेडकर राजकीय छात्रावास में 10वीं में पढ़ने वाली छात्रा की संदिग्ध हालत में मौत के बाद शव मिलने को लेकर कई तरह के सवाल खड़े हो चुके है। छात्रा की मौत को लेकर मेडिकल रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि लड़की के प्राइवेट पार्ट से खून निकला था। 

 

लेकिन बिहार के हाजीपुर में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के विधायक ललन पासवान की संवेदनहीनता तब सामने दिखाई दी जब वह मर्डर केस में खुद ही जांच अधिकारी बनकर पहुंचे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, विधायक ललन वहां पहुंचकर नाबालिग लड़कियों से आपत्तिजनक सवाल पूछने शुरू कर दिए। अपनी सहेली की मौत से दुखी छात्राओं से जब ललन पासवान ने ये सवाल पूछे तो लड़कियां घबरा गईं। ललन पासवान रोहतास जिले के चेनारी से चुने गए थे।

 

पढ़ें- एससी-एसटी छात्रावास में 10वीं की छात्रा की गैंगरेप के बाद मौत 

 

आपको बता दें कि RLSP विधायक सबसे पहले उस जगह गए जहां लड़की का शव मिला था। इसके बाद उन्होंने छात्रावास की लड़कियों से बात करना शुरू कर दिया। पढ़ाई से शुरू हुई बातचीत रेप तक जा पहुंची। इसके बाद उन्होंने मृतक लड़की के संदर्भ में पूछा कि खून कहां से निकल रहा था?

 

 

विधायक ने छात्रों से पूछा कि ठीक से बताओ कि खून कहां से निकल रहा था? क्या कपड़ा पूरी तरह खून से भीग गया था? 8वीं की एक छात्रा ने झिझकते हुए विधायक के सवालों का जवाब तो दिया लेकिन विधायक तो मानो सारी मर्यादाएं ही भूल चुके थे। उन्होंने इसके बाद भी एक के बाद कई ऐसे आपत्तिजनक सवाल पूछे​ जिनके जवाब तक देने में लड़कियों को शर्मिंदा होना पड़ा। 

 

पढ़ें- 500 करोड़ के हवाला में आया भाजपाई मंत्री का नाम, शिवराज सिंह ने खुलासा करने वाले SP को हटाया!

 

उन्होंने एक छात्रा से कहा, 'अगर इसका जवाब नहीं दोगी तो अपराधी कैसे पकड़ा जाएगा?' हालांकि, इस पूरे मामले पर विधायक ने सफाई भी दी है। उनका कहना है, 'मेरे सवाल पूछने के तरीके गलत हो सकते हैं लेकिन मेरी मानसिकता गलत नहीं थी। गलत तरीके से विडियो संग छेड़छाड़ कर दिखाया जा रहा है। माफी की बात तो तब होती जबकि मेरा इंटेंशन गलत होता।'

 

 

पढ़ें- शिवराज सरकार से बच्चों ने मांगा प्लेग्राउंड, भेज दिया जेल

 

छात्रा की मौत के बाद मृतका की मां कुसमी देवी ने छात्रावास प्रशासन पर कई आरोप लगाए थे। उनका आरोप था कि कुछ लड़के चुपके से हॉस्टल में घुस जाते थे। इस बाबत उनकी बेटी ने शिकायत की थी कि कुछ लड़के खिड़कियों को पीटते थे और पत्थर मारकर छेड़ते थे। इसी को लेकर लड़की हॉस्टल वापस नहीं जाना चाहती थी। छात्रावास में रहने वाली लड़कियों ने भी माना है कि हॉस्टल में कुछ लड़के चुपके से दाखिल होते थे और खिड़कियां पीटकर भाग जाते थे। 

 

 


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

मोहसिन शेख हत्याकांड में मुंबई हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ SC में अपील करेंगे परिजन

पटना में छात्रों ने किया जातिगत-वर्णगत भेदभाव के खिलाफ संघर्ष का ऐलान

रोहित वेमुला को इंसाफ के लिए मार्च निकाल रहे छात्रों पर पुलिस का कहर

नोटबंदी से कालाधन नहीं रुकेगा, जिससे रुकेगा वह सरकार ने किया ही नहीं- रिपोर्ट

भारत में 19 जनवरी को होगा लॉन्च Xiaomi Redmi Note 4

चरखे से हटाने के बाद अब गांधीजी की मूर्तियों की बारी!

मोटापे की गिरफ्त में 76 फीसदी आबादीः शोध

गुजरात लौटते ही मोदी पर हमलावर हुए हार्दिक पटेल

भारतीय मीडिया में फैला है भ्रष्टचारः मीनाक्षी लेखी

नर्सरी दाखिले में निजी स्कूलों के मनमाने मानदंड को लेकर शिक्षा मंत्री ने दिया नोटिस

गोंडा में अपरकास्ट गुंडों का दलितों पर कहर

जल्द आ रही है नई फिल्म 'अलिफ़', प्रेस क्लब में डायरेक्टर से मिलिए