Switch to English

National Dastak

x

मुलायम सिंह यादव का बेटे को लालच- 'वापस आ जाओ CM तुम ही रहोगे'

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2017-01-11 Time : 18:17:47 PM


मुलायम सिंह यादव का बेटे को लालच- 'वापस आ जाओ CM तुम ही रहोगे'

लखनऊ। समाजवादी पार्टी में पारिवारिक कलह अब लालच और मानमुनव्वल पर आकर रुक गई है। मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को लखनऊ में पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि हमने अखिलेश को कहा है कि सीएम तुम ही बनोगे, लेकिन रामगोपाल से अलग हो जाओ। उन्होंने कहा कि रामगोपाल बेटे अक्षय यादव और बहू रिचा यादव के कहने पर पार्टी तोड़ रहे हैं। मुलायम बोले, " हम ना तो अलग पार्टी बना रहे हैं और ना ही सिंबल बदल रहे हैं। हम अपनी पार्टी नहीं छोड़ेंगे। बचा कर रहेंगे।" 


आपको बता दें कि 31 दिसंबर से अब तक मुलायम और अखिलेश के बीच सुलह की 8 कोशिशें हो चुकी हैं। ये सारी कोशिशें नाकाम रही हैं। पार्टी दफ्तर पर मुलायम ने कार्यकर्ताओं से कहा, " मैं लिखकर देने को तैयार हूं, लेकिन अखिलेश पहले खुद को रामगोपाल से अलग करें, वो उसे बरगला रहे हैं। मैंने उनको कहा कि विवाद में मत पड़ो। हम पार्टी में एकता चाहते हैं। वो अलग पार्टी बना रहे हैं।"

 

पढ़ें- योग की राजनीति करने वाले मोदीजी को पद्मासन तक नहीं आता- राहुल गांधी

 


सपा सुप्रीमो ने कहा कि पार्टी बनाने के लिए हमने लाठियां खाई हैं। हम नहीं चाहते हैं कि पार्टी टूटे। मैंने गरीबी में परिवार छोड़ा। अब मेरे पास क्‍या बचा है? हम पार्टी को टूटने नहीं देंगे। न पार्टी का नाम बदलेंगे, न सिंबल बदलेंगे।""संघर्ष करके समाजवादी पार्टी बनी है। इमरजेंसी के दौरान हमने बहुत संघर्ष किया। इसके बाद चुनाव लड़ा और बहुमत में आई। कार्यकर्ताओं की मेहनत और संघर्ष से पार्टी आगे बढ़ी।"

 

पढ़ें- 'समान नागरिक संहिता' पर नीतीश कुमार ने मोदी सरकार को दिखाया आईना


मुलायम ने कहा, "रामगोपाल यादव दूसरी पार्टी के अध्‍यक्ष से 4 बार मिले। रामगोपाल लड़के-बहू के कहने पर पार्टी तोड़ रहे हैं। रामगोपाल अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी बना रहे हैं। वे पार्टी के लिए मोटरसाइकिल चुनाव चिह्न मांग रहे हैं। कुछ लोग बीजेपी के साथ मिलें। लेकिन, हमारी पार्टी की एकता में कोई बाधा नहीं आएगी।

 


मुलायम ने कहा, "मेरे पास जो था वो देश का है और मेरे पास क्या है? मेरे पास आप सब (कार्यकर्ता ) हैं। मुझे पार्टी कार्यकर्ताओं पर पूरा भरोसा है। मेरे पास जो कुछ था, दे दिया। हमने इमरजेंसी के बाद चुनाव लड़ा और बहुमत में आए। कार्यकर्ताओं की मेहनत और संघर्ष से पार्टी आगे बढ़ी।"
 


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

दिल्ली यूनिवर्सिटी में एबीवीपी की सरेआम गुंडागर्दी

20 साल बाद कोर्ट को पता चला फर्जी था भोजपुर एनकाउंटर

गर्व से कहो, हम गधे हैं!

मुझे प्रधानमंत्री का कुत्ता कहा गया- तारिक फतेह

उमा भारती के गढ़ में सबसे मजबूत नजर आ रही BSP!

झारखंडवासियों को शराब पिला कर लूटना चाहती सरकारः हेमंत सोरेन

भाजपा ने विधायक ने मुख्यमंत्री के खिलाफ मोर्चा

मोदी के श्मशान वाले बयान की मायावती ने खोली पोल

आर्थिक तंगी और कर्ज ना उतार पाने के कारण किसानों ने की आत्महत्या

सपा को समर्थन करने पर नीतीश ने जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष को निकाला

पांच सालों में मायावती ने कराए खूब काम, मीडिया को दिखीं सिर्फ मूर्तियां

प्ले स्कूल में 3 साल की छात्रा के साथ रेप