Switch to English

National Dastak

x

सेना कैंप के पास रह रहे लोगों का बड़ा खुलासा- अधिकारी हमें आधे दामों में बेचते हैं BSF का सामान

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2017-01-11 Time : 11:41:07 AM


सेना कैंप के पास रह रहे लोगों का बड़ा खुलासा- अधिकारी हमें आधे दामों में बेचते हैं BSF का सामान

नई दिल्ली। 9 जनवरी को फेसबुक पर एक वीडियो शेयर किया गया था। उसमें बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव ने अफसरों पर सेना का राशन बेच देने का आरोप लगाया था। इसके साथ ही बहादुर ने कुछ वीडियो पोस्ट करके दिखाया था कि जवानों को खाने-पीने के लिए ठीक खाना नहीं दिया जाता। 


उन्होंने कहा था कि सरकारें उनके लिए काफी कुछ करती हैं लेकिन सेना के अफसर आने वाले राशन को मार्केट में बेच देते हैं। उन्होंने कहा था कि नाश्ते  में उन्हें केवल चाय और एक जला हुआ पराठा मिलता है। उन्होंने दाल रोटी की वीडियो पोस्ट करके दिखाया था कि दाल के नाम पर सिर्फ पानी दिया जाता है।

 

पढ़ें- अफसर बेच खाते हैं हमारा राशन, कैसे करें देश की रक्षाः एक जवान का दर्द

 


इस मामले ने एक नया मोड़ लिया है और अब सेना के जवान के आरोप सच साबित हो रहे हैं। श्रीनगर में सुरक्षा बलों के कैंप के आस-पास रहने वाले लोगों ने खुलासा किया है कि सेना के कुछ अधिकारियों से उन्हें मार्केट से आधे रेट में सामान मिल जाता है। लोगों ने बताया कि अधिकारियों से उन लोगों को पेट्रोल, डीजल के साथ-साथ खाने के कुछ सामान भी मार्केट से आधे रेट में मिल जाते हैं। खाने के सामान में चावल, मसाले जैसी चीजें शामिल हैं। इसके साथ-साथ सब्जियां तक कैंप के पास रह रहे लोगों को सस्ते में बेच दी जाती हैं। 

 

पढ़ें- 'पीएम मोदी ने जेबकतरे की तरह जनता का पैसा ले लिया'

 

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, ये बातें श्रीनगर के हमहमा में बने बीएसएफ हेडक्वॉटर के आसपास रहने वाले लोगों से बातचीत के बाद सामने आई हैं। वह हेडक्वॉटर श्रीनगर एयरपोर्ट के पास ही है। 

 

 

पढ़ें- 'जली रोटी का सच उजागर करने वाले BSF के जवान को सम्मानित करने की माँग'


इसके अलावा कैंप के बाहर फर्नीचर की दुकान खोलकर बैठे एक शख्स ने तो यह भी कहा कि सेना के जिन लोगों के जिम्मे फर्नीचर खरीदने की जिम्मेदारी होती है वह कमीशन लेकर उन लोगों को ऑर्डर देते हैं इसके अलावा पैसों के लिए सामान की क्लॉलिटी से भी समझौता करने को तैयार हो जाते हैं। उस शख्स ने यह भी दावा किया कि सेना में ई-टेंडर का कोई सिस्टम ही नहीं है।

 

पढ़ें- BSF के जवान तेज़ बहादुर यादव के नाम दिलीप मंडल की चिट्ठी


इन बातों के सामने आने के बाद बीएसएफ की 29वीं बटालियन के जवान तेज बहादुर यादव की बातें सच लगने लगी हैं। यह हाल सिर्फ बीएसएफ का नहीं है। सीआरपीएफ के कुछ अधिकारियों का भी यही हाल है।

 


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

दलितों को धोखा देकर मुख्यमंत्री बने केसी राव, सरकारी संपत्ति से मंदिर में किया 5 करोड़ का दान

अपर कास्ट अध्यापक ने दलित छात्र के तोड़े दोनों हाथ

दलित अत्याचार का विरोध करने की वजह से निशाना बनाई जा रहीं चंद्रकला मेघवाल?

नेशनल दस्तक की ग्राउंड रिपोर्ट: अखिलेश राज के दंगों का दर्द भूले नहीं है लोग

सिर्फ दो लोगों के कहने पर जांच समिति ने रोहित वेमुला को साबित कर दिया ओबीसी

चोरी के शक में मासूम बच्चों को गर्म तेल में हाथ डालकर साबित करनी पड़ी बेगुनाही

स्मृति ईरानी को बड़ी राहत, पर्दे में ही रहेगी उनकी डिग्री

जेडीयू विधायक पर कृषि विश्वविद्यालय में गलत नियुक्ति का मामला दर्ज

RSS पर वरुण गांधी का बड़ा हमला, भाजपा की दलित विरोधी मानसिकता की खोली पोल

बिखरने लगी सपा, भाजपा का प्रचार करने पर पार्टी से निकालीं रंजना वाजपेयी

अमर सिंह ने खोली सपा के सियासी ड्रामे की पोल, मुलायम सिंह यादव ने लिखी थी स्क्रिप्ट

शरणम् गच्छामि को रिलीज करने की मांग को लेकर सेंसर बोर्ड के ऑफिस में घुसे दलित स्टूडेंट्स

Top News

दलितों को धोखा देकर मुख्यमंत्री बने केसी राव, सरकारी संपत्ति से मंदिर में किया 5 करोड़ का दान

दलित अत्याचार का विरोध करने की वजह से निशाना बनाई जा रहीं चंद्रकला मेघवाल?

नेशनल दस्तक की ग्राउंड रिपोर्ट: अखिलेश राज के दंगों का दर्द भूले नहीं है लोग

सिर्फ दो लोगों के कहने पर जांच समिति ने रोहित वेमुला को साबित कर दिया ओबीसी

स्मृति ईरानी को बड़ी राहत, पर्दे में ही रहेगी उनकी डिग्री

RSS पर वरुण गांधी का बड़ा हमला, भाजपा की दलित विरोधी मानसिकता की खोली पोल

बिखरने लगी सपा, भाजपा का प्रचार करने पर पार्टी से निकालीं रंजना वाजपेयी

अमर सिंह ने खोली सपा के सियासी ड्रामे की पोल, मुलायम सिंह यादव ने लिखी थी स्क्रिप्ट