Switch to English

National Dastak

x

तो क्या खाली कुर्सियों और विरोध के कारण रैली करने की हिम्मत नहीं जुटा सके पीएम मोदी?

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2016-12-12 Time : 18:59:35 PM


तो क्या खाली कुर्सियों और विरोध के कारण रैली करने की हिम्मत नहीं जुटा सके पीएम मोदी?

बहराइच। नोटबंदी से देश की आम जनता बुरी तरह कराह रही है, लोगों का जीना मुहाल हो गया है। नोटबंदी और देश में हो रही उथल-पुथल से आम जनता के बीच पीएम मोदी का प्रभाव घटता जा रहा है। लोग अब पीएम मोदी की रैलियों में जाने के बजाय उनका विरोध करने लगे हैं। बहराइच रैली से पहले भी लोगों ने एकजुट होकर 'मोदी वापस जाओ' के नारे लगाए थे और पीएम मोदी का पुतला फूंका था। तो क्या यह वजह तो नहीं पीएम मोदी की बहराइच रैली में न जाने की?


आपको बता दें कि पीएम मोदी की रविवार को उत्तर प्रदेश के बहराइच में रैली होनी थी जिसकी जबरदस्त तैयारियां की गई थी। खबर है कि रैली में मंच सजाने के लिए फूल भी थाईलैंड से मंगवाए गए थे। लेकिन कार्यकर्ताओं की उम्मीदों पर पानी तब फिर गया जब आखिरी समय पर पीएम मोदी का रैली स्थल पर आने का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया। कार्यक्रम रद्द होने के पीछे का कारण दिया गया कि मौसम खराब होने की वजह से हेलीकॉप्टर रैली स्थल पर नहीं उतर सकता जिसके बाद पीएम मोदी ने फ़ोन पर ही रैली को संबोधित किया।

 

पढ़ें- गोवा में मांगे गए '50 दिन' के अल्टीमेटम पर गुजरात में पलटी मार गए प्रधानमंत्री

 

 

लोग सवाल यह उठा रहे हैं कि सेना का हेलीकॉप्टर सियाचीन में माइनस 50 डिग्री सेल्सियस पर पीएम मोदी को लेकर जा सकता है तो क्या बहराइच का मौसम इतना खराब था कि एयरफोर्स का हेलीकॉप्टर वहां नहीं उतर सकता था? मौसम इतना भी खराब नहीं था कि हेलीकॉप्टर उतर न सके। आर्द्रता के कारण डेनसिटी कम होता है तो उड़ान भरना मुश्किल होता है लेकिन उतरना नहीं।

 

पढ़ें- फ्लॉप रैलियों में फर्जी बात बोलकर संसद का अपमान न करें पीएम मोदी- मायावती


स्थानीय नेताओं और अन्य लोगों की माने तो रैली रद्द होने का कारण रैली में पड़ी खाली कुर्सियां और विरोध है। बताया जा रहा है की मोदी की रैली में उम्मीद के मुताबिक भीड़ नही जुट पायी थी। यहां तक की रैली शुरू होने से 30 मिनट पहले तक अधिकांश कुर्सियां खाली ही पड़ी हुई थीं। जब पीएम मोदी का हेलीकॉप्टर रैली स्थल के ऊपर उड़ता दिखा तब जाकर कुछ भीड़ रैली स्थल पर पहुंची थी।

 


बताया जा रहा है कि मौसम इतना भी खराब नहीं था कि हेलीकॉप्टर ना उतारा जा सके। लगता है लोगों का विरोध और मोदी वापस जाओ के नारों ने ही शायद पीएम मोदी को रैली स्थल पर उतरने से रोक दिया। 
 

पढ़ें- हमेशा अपनी कही हुई बात का उल्टा करते हैं पीएम मोदी- मायावती


बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने भी पीएम मोदी की बहराइच रैली पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी की वही घिसी-पिटी बात सुनकर लोग काफी निराश हो गए हैं। बसपा प्रमुख ने कहा कि मोदी जी कह रहे हैं कि विपक्ष उन्हें बोलते नहीं देता, मगर अपने पद की गरिमा भूलकर वह गलतबयानी कर लोगों को गुमराह कर रहे हैं और अपनी जवाबदेही से भाग रहे हैं।

 


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

दिल्ली यूनिवर्सिटी में एबीवीपी की सरेआम गुंडागर्दी

20 साल बाद कोर्ट को पता चला फर्जी था भोजपुर एनकाउंटर

गर्व से कहो, हम गधे हैं!

मुझे प्रधानमंत्री का कुत्ता कहा गया- तारिक फतेह

उमा भारती के गढ़ में सबसे मजबूत नजर आ रही BSP!

झारखंडवासियों को शराब पिला कर लूटना चाहती सरकारः हेमंत सोरेन

भाजपा ने विधायक ने मुख्यमंत्री के खिलाफ मोर्चा

मोदी के श्मशान वाले बयान की मायावती ने खोली पोल

आर्थिक तंगी और कर्ज ना उतार पाने के कारण किसानों ने की आत्महत्या

सपा को समर्थन करने पर नीतीश ने जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष को निकाला

पांच सालों में मायावती ने कराए खूब काम, मीडिया को दिखीं सिर्फ मूर्तियां

प्ले स्कूल में 3 साल की छात्रा के साथ रेप