Switch to English

National Dastak

x

समय से पहले जन्में बच्चों की भाषा में होती है मजबूत पकड़ विकसित

Created By : एजेंसिया Date : 2017-01-09 Time : 17:38:07 PM


समय से पहले जन्में बच्चों की भाषा में होती है मजबूत पकड़ विकसित

नई दिल्ली। घर में छोटे बच्चों के होने से घर की रौनक बनी रहती है। लेकिन हाल ही में एक अध्ययन में पाया गया है कि समय पूर्व प्रसव से जन्मे बच्चे भाषा और संज्ञानात्मक कौशलों को सीखने में पूर्ण कालिक प्रसव के जरिए पैदा हुए बच्चों की तुलना में ज्यादा बेहतर होते हैं।

 

आपको बता दें कि शोधकर्ताओं ने अध्ययन में पाया कि समय पूर्व पैदा हुए बच्चों ने भाषा और अनुभूति को लेकर जल्दी संबंध विकसित किया। अध्ययन में यह भी खुलासा हुआ कि इस तरह के बच्चों की भाषा में मजबूत पकड़ विकसित होती है।

 

 

अमेरिका के इलिनोइस के नॉर्थवेस्टर्न विश्वविद्यालय के सांद्रा वाक्समान ने कहा कि इस अध्ययन से यह शिशुओं के जल्द अनुभव करने की भूमिका को समझने और भाषा के संपर्क व परिपक्वता स्थिति को जानने में मदद करती है।

 

 

शोधकर्ताओं की टीम ने स्वस्थ समय पूर्व पैदा हुए और पूर्णकालिक शिशुओं की एक ही उम्र वाले बच्चों की तुलना की। इसमें भाषा और वस्तु वर्गीकरण के बीच उनके संबंध के विकास का अध्ययन किया गया। इस शोध का प्रकाशन ऑनलाइन पत्रिका ‘डिवेलपमेंटल साइंस’ में हुआ है।


 


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

दलितों को धोखा देकर मुख्यमंत्री बने केसी राव, सरकारी संपत्ति से मंदिर में किया 5 करोड़ का दान

अपर कास्ट अध्यापक ने दलित छात्र के तोड़े दोनों हाथ

दलित अत्याचार का विरोध करने की वजह से निशाना बनाई जा रहीं चंद्रकला मेघवाल?

नेशनल दस्तक की ग्राउंड रिपोर्ट: अखिलेश राज के दंगों का दर्द भूले नहीं है लोग

सिर्फ दो लोगों के कहने पर जांच समिति ने रोहित वेमुला को साबित कर दिया ओबीसी

चोरी के शक में मासूम बच्चों को गर्म तेल में हाथ डालकर साबित करनी पड़ी बेगुनाही

स्मृति ईरानी को बड़ी राहत, पर्दे में ही रहेगी उनकी डिग्री

जेडीयू विधायक पर कृषि विश्वविद्यालय में गलत नियुक्ति का मामला दर्ज

RSS पर वरुण गांधी का बड़ा हमला, भाजपा की दलित विरोधी मानसिकता की खोली पोल

बिखरने लगी सपा, भाजपा का प्रचार करने पर पार्टी से निकालीं रंजना वाजपेयी

अमर सिंह ने खोली सपा के सियासी ड्रामे की पोल, मुलायम सिंह यादव ने लिखी थी स्क्रिप्ट

शरणम् गच्छामि को रिलीज करने की मांग को लेकर सेंसर बोर्ड के ऑफिस में घुसे दलित स्टूडेंट्स

Top News

दलितों को धोखा देकर मुख्यमंत्री बने केसी राव, सरकारी संपत्ति से मंदिर में किया 5 करोड़ का दान

दलित अत्याचार का विरोध करने की वजह से निशाना बनाई जा रहीं चंद्रकला मेघवाल?

नेशनल दस्तक की ग्राउंड रिपोर्ट: अखिलेश राज के दंगों का दर्द भूले नहीं है लोग

सिर्फ दो लोगों के कहने पर जांच समिति ने रोहित वेमुला को साबित कर दिया ओबीसी

स्मृति ईरानी को बड़ी राहत, पर्दे में ही रहेगी उनकी डिग्री

RSS पर वरुण गांधी का बड़ा हमला, भाजपा की दलित विरोधी मानसिकता की खोली पोल

बिखरने लगी सपा, भाजपा का प्रचार करने पर पार्टी से निकालीं रंजना वाजपेयी

अमर सिंह ने खोली सपा के सियासी ड्रामे की पोल, मुलायम सिंह यादव ने लिखी थी स्क्रिप्ट