National Dastak

x

मोदीजी की नोटबंदी अभी रुपये को और गर्त में ढकेलेगी- रिपोर्ट

Created By : एजेंसियां Date : 2017-01-07 Time : 19:18:06 PM

मोदीजी की नोटबंदी अभी रुपये को और गर्त में ढकेलेगी- रिपोर्ट

नई दिल्ली। डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमतों में इस साल भारी गिरावट हो सकती है। ग्लोबल बॉन्ड यील्ड्स में बढ़ोतरी और नोटबंदी की वजह से रुपये के और कमजोर होने की आशंका जताई जा रही है। रॉयटर्स के सर्वे के मुताबिक ग्लोबल बॉन्ड यील्ड्स में बढ़ोतरी और नोटबंदी की वजह से इस साल रुपया की कीमत में रिकॉर्ड गिरावट आएगी। पिछले साल रुपये ने भारतीय उपमहाद्वीप की ज्यादातर मुद्राओं के मुकाबले थोड़ा बेहतर प्रदर्शन किया था। लेकिन, अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डॉनल्ड ट्रंप की जीत और भारत में नोटबंदी की घोषणा के बाद 2016 के आखिर में पूंजी निकासी की गति तेज हो गई।

 

पढ़ें-मोदी राज में जीडीपी दर का कबाड़ा, 7.1% रहने का अनुमान

 

एक सर्वे के अनुसार एक महीने में डॉलर के मुकाबले रुपया गिरकर 68.50 पर आने की संभावना है। वही 30 फॉरेन एक्सचेंज स्ट्रैटिजिस्ट्स के पोल में ये आशंका जताई गई है कि साल के अंत तक रुपया 69.50 प्रति डॉलर तक आ सकता है। पिछले कई सालों में पहली बार ये अनुमान लगाया गया है कि रुपया इतना ज्यादा कमज़ोर होगा। तीन महीने पहले ही रॉयटर्स के पोल में ही कहा गया था कि रुपया एक साल में 67.73 प्रति डॉलर पर ट्रेड करेगा।

 


अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान ही अमेरिका ट्रेजरी यील्ड 25 फीसदी बढ़ा था जो पिछले दो सालों के सबसे ऊंचे स्तर पर है। ट्रंप की जीत के बाद बाज़ार को उम्मीद है कि उनका प्रशासन टैक्स में कटौती करेगा एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रॉजेक्ट्स और डीरेग्युलेशन पर जोर देगा। पिछले महीने अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने भी फेडरल फंड्स रेट बढ़ाई थी। इसके साथ ही ब्याज दरों को बढ़ाने का संकेत भी दिया था। इधर, नोटबंदी की वजह से भारत में औद्योगिक और सेवा क्षेत्र, दोनों ही प्रभावित हुए हैं। भारत में सरकारी आंकड़े भी बता रहे हैं कि इस साल आर्थिक विकास दर 7.1 फीसदी के करीब रहेगी।


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

मोहसिन शेख हत्याकांड में मुंबई हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ SC में अपील करेंगे परिजन

पटना में छात्रों ने किया जातिगत-वर्णगत भेदभाव के खिलाफ संघर्ष का ऐलान

रोहित वेमुला को इंसाफ के लिए मार्च निकाल रहे छात्रों पर पुलिस का कहर

नोटबंदी से कालाधन नहीं रुकेगा, जिससे रुकेगा वह सरकार ने किया ही नहीं- रिपोर्ट

भारत में 19 जनवरी को होगा लॉन्च Xiaomi Redmi Note 4

चरखे से हटाने के बाद अब गांधीजी की मूर्तियों की बारी!

मोटापे की गिरफ्त में 76 फीसदी आबादीः शोध

गुजरात लौटते ही मोदी पर हमलावर हुए हार्दिक पटेल

भारतीय मीडिया में फैला है भ्रष्टचारः मीनाक्षी लेखी

नर्सरी दाखिले में निजी स्कूलों के मनमाने मानदंड को लेकर शिक्षा मंत्री ने दिया नोटिस

गोंडा में अपरकास्ट गुंडों का दलितों पर कहर

जल्द आ रही है नई फिल्म 'अलिफ़', प्रेस क्लब में डायरेक्टर से मिलिए