Switch to English

National Dastak

x

अफसर बेच खाते हैं हमारा राशन, कैसे करें देश की रक्षाः एक जवान का दर्द

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2017-01-09 Time : 16:54:34 PM


अफसर बेच खाते हैं हमारा राशन, कैसे करें देश की रक्षाः एक जवान का दर्द

नई दिल्ली। हमारे देश की सुरक्षा हमारे देश के जवानों के हाथों में है जो दिन रात हमारी और हमारे देश की सुरक्षा करने में अपनी जिंदगी बिता देते है। अपनी जान की परवाह किए बिना देश के जवान बॉर्डर पर लड़ते है। लेकिन हाल ही में सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक पर एक वीडियो काफी शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो में एक बीएसएफ जवान अपना दर्द बयां कर रहा है।


तेज बहादुर यादव नाम की प्रोफाइल से अपलोड किए गए वीडियो को अब तक करीब साढ़े छह लाख लोग देख चुके हैं, इसके साथ ही 50 हजार से ज्‍यादा बार शेयर किया जा चुका है। वीडियो में शख्‍स खुद को तेज बहादुर यादव, बीएसएफ की 29वीं बटालियन का सदस्‍य बताता है और जम्‍मू-कश्‍मीर में तैनाती का दावा कर रहा है। 

 

पढ़ें- 'पीएम मोदी ने जेबकतरे की तरह जनता का पैसा ले लिया'


बर्फीली पहाड़ियों के बीच खड़े होकर, कंधे पर बंदूक लटकाए और बीएसएफ की वर्दी पहने यादव कहते हैं, ‘देशवासियों मैं आपसे एक अनुरोध करना चाहता हूं। हम लोग सुबह 6 बजे से शाम 5 बजे तक, लगातार 11 घंटे इस बर्फ में खड़े होकर ड्यूटी करते हैं। कितना भी बर्फ हो, बारिश हो, तूफान हो, इन्‍हीं हालातों में हम ड्यूटी कर रहे हैं। फोटो में हम आपको बहुत अच्‍छे लग रहे होंगे मगर हमारी क्‍या सिचुएशन हैं, ये न मीडिया दिखाता है, न मिनिस्‍टर सुनता है। कोई भी सरकार आईं, हमारे हालात वहीं हैं। मैं इस के बाद तीन वीडियो भेजूंगा जिसको मैं चाहता हूं कि आप दिखाएं कि हमारे अधिकारी हमारे साथ कितना अत्‍याचार व अन्‍याय करते हैं।”

 

पढ़ें- नोटबंदी पर उर्जित पटेल जवाब नहीं दे पाए तो मोदी को तलब करेगी लोक लेखा समिति

 

यादव वीडियो में आगे कहते है, ”हम किसी सरकार के खिलाफ आरोप नहीं लगाना चाहते। क्‍योंकि सरकार हर चीज, हर सामान हमको देती है। मगर उच्‍च अधिकारी सब बेचकर खा जाते हैं, हमारे को कुछ नहीं मिलता। कई बार तो जवानों को भूखे पेट सोना पड़ता है। मैं आपको नाश्‍ता दिखाऊंगा जिसमें सिर्फ एक पराठा और चाय मिलता है, उसके साथ अचार नहीं होता। दोपहर के खाने की दाल में सिर्फ हल्‍दी और नमक होता है, रोटियां भी दिखाऊंगा। मैं फिर कहता हूं कि भारत सरकार हमें सब मुहैया कराती है, स्‍टोर भरे पड़े हैं मगर वह सब बाजार में चला जाता है। इसकी जांच होनी चाहिए।”

 

पढ़ें- नोटबंदी से सिर्फ 34 दिनों में चली गईं 35 फीसदी नौकरियां, मार्च तक दोगुनी होगी बेरोजगारी- रिपोर्ट


इसके बाद वीडियो में पीएम नरेंद्र मोदी से अपील की गई है। यादव कहते है कि ”मैं प्रधानमंत्री से कहना चाहता हूं कि इसकी जांच कराएं। दोस्‍तों यह वीडियो डालने के बाद शायद मैं रहूं या न रहूं। अधिकारियों के बहुत बड़े हाथ हैं। वो मेरे साथ कुछ भी कर सकते हैं, कुछ भी हो सकता है।”


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

शर्मनाक: योगी आदित्यनाथ के जाते ही बच्चों से छीन लिया गया 'बस्ता'

MP गजब हैः शाही शादी में करीब 400 सरकारी टीचर्स को बना दिया वेटर

सनसनीखेज: BSP नेता और उसके पूरे परिवार की हत्या, सबको जमीन में दफनाया

योगी सरकार को मीट कारोबारियों ने दी खुली चेतावनी, जानकर होश उड़ जाएंगे...

योगी सरकार में केशव प्रसाद मौर्य भी हैं जुल्म-ज्यादती के शिकार: मायावती

सड़क मार्ग से सहारनपुर जा रहीं मायावती, नेशनल दस्तक पर देखिए हर मिनट का अपडेट

मेरठः रोजी-रोटी को तरस रहे मीट विक्रेताओं ने किया भूख हड़ताल

सहारनपुर: चार बार उत्तर प्रदेश की CM रहीं मायावती को क्यों नहीं दी गई हेलिपैड की परमीशन?

बहनजी के 'हेलीकॉप्टर' से मोदी और योगी को क्यों लगता है डर ?

बहनजी सड़कमार्ग से सहारनपुर रवाना, सहारनपुर में जबरदस्त तैयारी

बहनजी ने खुद खोला राज, क्यों देर से जा रही हैं सहारनपुर

पत्थरबाजों की जगह जीप पर अरुंधति रॉय को बांधा जाना चाहिए: परेश रावल