Switch to English

National Dastak

x

ऐसे लोगों में हो सकता है दिल के दौरे का दोगुना खतरा

Created By : एजेंसिया Date : 2017-01-18 Time : 18:04:13 PM


ऐसे लोगों में हो सकता है दिल के दौरे का दोगुना खतरा

नई दिल्ली। वह लोग जिन्होंने स्कूल से प्रमाणपत्र लिए बिना ही पढ़ाई छोड़ दी या शिक्षा अधूरी रही, उनमें विश्वविद्यालय स्तर की शिक्षा लेने वालों की तुलना में दिल का दौरा पड़ने की संभावना दोगुने से ज़्यादा बढ़ जाती है। यह बात एक शोध में सामने आई है। 

 


बता दें कि आस्ट्रेलियन नेशनल विश्वविद्यालय (एएनयू) के प्रमुख शोधकर्ता रोजमैरी कोर्डा ने कहा कि “आप की शिक्षा जितनी ही कम होगी, आपको दिल के दौरे या स्ट्रोक होने की संभावना ज़्यादा रहेगी। यह तथ्य परेशान करने वाला है, लेकिन यह निष्कर्षों से साफ पता चलता है”।

 

शोध में पाया गया कि ऐसे वयस्क, जिनके पास कोई शैक्षिक योग्यता नहीं थी, उनमें विश्वविद्यालय की डिग्री रखने वाले लोगों की तुलना में दिल का दौरा पड़ने की संभावना दोगुनी (करीब 150 फीसद ज़्यादा) होती है। इन वयस्कों की आयु 45 से 64 साल थी।

 

दिल का दौरा पड़ने का जोखिम इंटरमीडिएट स्तर या गैर-विश्वविद्यालयी शिक्षा वाले लोगों में करीब दो-तिहाई (70 फीसदी) से ज़्यादा रहा। इसकी वज़ह यह थी कि अच्छी शिक्षा लंबे समय के स्वास्थ्य पर आपके कार्य की प्रकृति, आपके रहन-सहन और आपके खाने की पसंद पर असर डालती है।

 

मध्यम आयु वर्ग के वयस्क, जिन्होंने विश्वविद्यालय डिग्री ली है, उनकी तुलना में पहली बार स्ट्रोक की संभावना हाईस्कूल की पढ़ाई पूरी नहीं करने वालों में 50 फीसदी और गैर-विश्वविद्यालय योग्यता धारकों में 20 फीसदी रही। कोर्डा ने कहा कि एक इसी तरह की असमानता घरेलू आय और दिल की बीमारियों के बीच में भी पाई गई।

 

शोधकर्ताओं ने कहा कि इस अनुसंधान से हमें शैक्षिक उपलब्धि और दिल के बीमारियों के खतरे की विशेष संबंधों के खुलासे का अवसर देता है। इससे यह भी पता चल सकेगा कि इसे कम करने के लिए क्या किया जाए।

 

अध्ययन के लिए शोधकर्ताओं ने शिक्षा और दिल के रोगों (दिल का दौरा या स्ट्रोक) के संबंधों की जांच की। इसके लिए 45 साल से ज़्यादा आयु के 267,153 पुरुषों और महिलाओं का पांच साल तक परीक्षण किया गया। शोध के परिणाम का प्रकाशन पत्रिका ‘इंटरनेशनल जरनल फॉर इक्विटी इन हेल्थ’ में किया गया।
 

 


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

अंतर-राज्‍य परिषद की स्‍थायी समिति की 11वीं बैठक की अध्‍यक्षता करेंगे राजनाथ

यूपी में शराबबंदी आंदोलन, योगी सरकार क्या करेगी

मनोज सिन्हा और बृजेश करा सकते हैं मेरी हत्या- मुख्तार अंसारी

महिला होने की वजह से भारत में मेरी मां को जज नहीं बनने दियाः US डिप्लोमैट निक्की हेली

सरकार ने माना, औरत को मर्दों से कम मिलता है वेतन

मोदी सरकार ने माना: फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनवाकर सवर्णों ने लूटीं हजारों नौकरियां, देखिए सबूत

यूपी पुलिस बूचड़खाने बंद कराने में व्यस्त ! छेड़खानी पर कार्रवाई न होने से युवती ने की आत्महत्या

सनसनीखेज खुलासा: तो इसलिए स्टूडेंट्स की सीटें खा गई भारत सरकार

मोदी-योगी के नाम पर थानों का 'निरीक्षण'  करने पहुंचे विधायक के बेटे

मुस्लिमों के रोजगार को लेकर ममता बनर्जी ने यूपी सरकार पर साधा निशाना

अफ्रीकी छात्रों पर हमले को लेकर AASI नाराज, अफ्रीकी संघ से करेगी भारत के साथ व्यापार कटौती की मांग

राजनीतिक मुद्दों को छोड़ गंगा सफाई की बात करें यूपी सरकारः NGT