Switch to English

National Dastak

x

तेज बहादुर यादव को सीमा से हटाकर बना दिया प्लंबर, पत्नी की नहीं हो पा रही बात

Created By : नेशनल दस्तक ब्यूरो Date : 2017-01-11 Time : 13:28:41 PM


तेज बहादुर यादव को सीमा से हटाकर बना दिया प्लंबर, पत्नी की नहीं हो पा रही बात

नई दिल्ली। फेसबुक पर वीडियो वायरल कर सेना में राशन चोरी और खराब खाने की पोल खोलने वाले बीएसएफ के जवान तेज बहादुर यादव को लेकर कई तरह की चर्चाएं चल रही हैं। वीडियो वायरल होने के बाद पहले बीएसएफ की तरफ से कहा गया कि वह शराबी था लेकिन इसके बावजूद भी लोगों का समर्थन लगातार जारी है। जिस तरह से जवान ने अपने साथ अनहोनी होने की आशंका जताई है ऐसा तो नहीं हुआ लेकिन उस जवान का ट्रांसफर कर दिया गया है। 

 

तेज बहादुर यादव को एलओसी से शिफ्ट कर प्लंबर का कम दे दिया गया है। पति के साथ किए गए इस व्यवहार से तेज बहादुर की पत्नी शर्मिला काफी दुखी हैं। शर्मिला ने BSF के इस रवैये पर सवाल उठाते हुए पूछा है- 'रोटी मांगना पाप नहीं है। मेरे पति पर लगे आरोपों की जांच होनी चाहिए।' बता दें कि तेज बहादुर का ये वीडियो वायरल करने के बाद उनके फॉलोवर्स की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। यह खबर टॉप ट्रेंडिंग में सुमार हो चुकी है। 

 

पढ़ें- सेना में कब खत्म होगी आत्मसम्मान को चकनाचूर करने वाली सेवादार प्रथा?

 

पढ़ें- अफसर बेच खाते हैं हमारा राशन, कैसे करें देश की रक्षाः एक जवान का दर्द

 

 

पढ़ें- सेना कैंप के पास रह रहे लोगों का बड़ा खुलासा- अधिकारी हमें आधे दामों में बेचते हैं BSF का सामान

 

 

पढ़ें- 'जली रोटी का सच उजागर करने वाले BSF के जवान को सम्मानित करने की माँग'

 

पढ़ें- कब खत्म होगी जवानों से जूता पॉलिस कराने की परंपरा

 

पढ़ें- BSF के जवान तेज़ बहादुर यादव के नाम दिलीप मंडल की चिट्ठी

 


जवान के आरोपों के बाद BSF के आईजी डीके उपाध्याय ने मंगलवार को जम्मू में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि हमारे लिए यह एक संवेदनशील मुद्दा है और इस बारे में जांच के आदेश दे दिए गए हैं। उन्होंने ये भी कहा कि जांच के बाद जो भी सामने आएगा उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। आईजी ने कहा कि मैं यह मान सकता हूं कि ठंड की वजह से खाने का टेस्ट अच्छा न हो लेकिन आमतौर पर जवानों को इससे शिकायत नहीं होती है। अभी फिलहाल मैं इस मुद्दे पर कोई कमेंट नहीं करुंगा। जांच चल रही है अगर कोई खामी पाई जाती है तो सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। बीएसएफ आईजी ने कहा कि तेज बहादुर यादव के खिलाफ अतीत में अनुशासनहीनता के आरोप हैं, उसका कोर्ट मार्शल किया जा चुका है। आरोपी जवान अपने से सीनियर अधिकारियों पर गन तान देता था। इसलिए इसे हेडक्वॉर्टर में रखा गया था।

 

 
BSF ने इस पूरे मामले से संबंधित अंतरिम जांच रिपोर्ट होम मिनिस्ट्री को सौंप दी। मिनिस्ट्री ने बुधवार तक फाइनल रिपोर्ट देने को कहा है। गौरतलब है कि इससे पहले वीडियो सामने आने के बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा था कि- 'बीएसएफ जवान की मुश्किल वाला वीडियो मैंने देखा है। मैंने गृह सचिव से कहा है कि वह तुरंत बीएसएफ से रिपोर्ट मांगे और उचित कार्रवाई करें।' राजनाथ के आलावा जवान के वीडियो पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कहा है था कि मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है। लेकिन सीमा पर अपनी नियमित यात्रा के दौरान मैंने जवानों के बीच सब कुछ सही पाया था।

 

 


खबरों की अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर और Youtube पर फॉलो करें---




Latest News

माओवादियों ने जारी किया ऑडियो, कहा- आदिवासी महिलाओं की इज्‍जत लूटने का बदला लिया

योगीराजः आठवीं की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म कर रोड पर छोड़ा

वारसा विश्वविद्यालय में 'भारतीय लोकतंत्र के सात दशक' पर बोले उप-राष्ट्रपति

JNU को बदनाम करने वाली वेबसाइट्स के खिलाफ छात्रों ने दर्ज कराई शिकायत

मोदी राज: 'डिजिटल इंडिया' के दौर में चिप लगाकर करते थे पेट्रोल चोरी

गवर्नमेंट की गलत पॉलिसी की वजह शहीद हुआ बेटा- कैप्टन आयुष यादव के पिता

BJP सांसद ने पुलिस अधिकारी को दी खाल उतरवाने की धमकी

बढ़ी मुश्किलें: बंबई हाईकोर्ट ने 'राधे मां' के खिलाफ बयान दर्ज करने के दिए आदेश

डीजीसीईआई ने पकड़ी 15,047 करोड़ रुपये की कर चोरी

योगीराजः आठ साल गैरहाजिर रहे सिपाही का हो गया प्रमोशन

गोरखपुर: समाधि लेने पहुंचे 'ढोंगी बाबा' को पुलिस ने पकड़ा

इन दलित छात्रों ने साबित कर दिया कि टैलेंट सवर्णों की जागीर नहीं