ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
Uncategorized

अमरनाथ हमले में ड्राइवर सलीम की भूमिका की ‘जांच’ होनी चाहिए: महंत नारायण गिरी

mahanat-giri

गाजियाबाद। अमरनाथ यात्रा के दौरान आतंकवादियों से सौ लोगों की जान बचाने वाले सलीम की एक ओर जहां चारों तरफ सराहना हो रही है, वहीं जूना अखाड़ा के महामंत्री और दूधेश्वरनाथ मंदिर के महंत नारायण गिरी को यह बात हजम नहीं होती दिख रही है।

महंत गिरी का कहना है कि अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों की बस पर हमले के बाद से बस के ड्राइवर सलीम को हीरो की तरह पेश किया गया है। इस घटना से संत समाज के लोगों की भावनाओं को भी खासी ठेस पहुंची है।

मुख्य बातें-

  1. महंत गिरी ने अमरनाथ आतंकी हमले में सलीम की भूमिका को लेकर उठाए सवाल
  2. महंत गिरी ने कहा- सलीम को हीरो बनाकर पेश किया जा रहा 
  3. हमले में मारे गए लोगों का आतंकियों को शाप लगेगा-महंत गिरी

ये भी पढ़ें-अमरनाथ यात्रियों की जान बचाकर सलीम ने सौहार्द बिगाड़ने वालों के मुंह पर तमाचा जड़ दिया

महंत गिरी ने समाचार वेबसाइट पत्रिका से बातचीत में अमरनाथ यात्रियों की बस पर हमले के बाद हीरो बने बस चालक सलीम की भूमिका पर भी सवाल उठाए। महंत नारायण गिरी के मुताबिक इस हमले में जितने भी लोग मारे गए हैं उनका आंतकियों को शाप लगेगा। सात पीढ़ियों तक कोई सुख उन लोगों को नहीं मिलेगा।

https://www.youtube.com/watch?v=zJ8upzWKnxE

महंत नारायण गिरी ने आगे कहा, इसके अलावा बस के ड्राइवर सलीम की भूमिका की जांच होनी चाहिए। पहले से मालूम था कि रात के समय में बस को ले जाना सुरक्षित नहीं फिर भी वो वहां से बस लेकर गया।

ये भी पढ़ें- मुस्लिमों को ‘पाकिस्तान’ भेजने वालों-सैकड़ों मुस्लिमों ने बचाई अमरनाथ श्रद्धालुओं की जान

महंत गिरी का कहना है कि यात्रियों के साथ हुए हादसे के बाद लोग मुस्कराते रहे। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। जब वो सन 1980 से 1984 के बीच में अमरनाथ में छड़ी के पुजारी थे और 181 किलोमीटर यात्रा लेकर जाते थे। तब भी वहां के लोग मजाक बनाने का काम करते थे।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved