ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
Uncategorized

केजरीवाल के समर्थन में उतरे बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा, बोले- दिल्ली पूर्ण राज्य बने

नई दिल्ली। भाजपा के ‘बागी’ नेता और सांसद शत्रुघ्न सिन्हा शनिवार से लगातार दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के समर्थन में ट्वीट कर रहे हैं। शनिवार को किए गए ट्वीट में उन्होंने अपनी ही पार्टी को आड़े हाथों लिया. पीएम मोदी का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा, ‘डियर सर! दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग बीजेपी की एक मजबूत मांग रही है। अब जब अरविंद इसकी मांग कर रहे हैं तो इसका इतना कड़ा विरोध क्यों? हमें अपने जिद/अहंकार को दिल्ली और इसके लोगों की भलाई के लिए छोड़ देना चाहिए।’

साथ ही शत्रुघ्न सिन्हा ने रविवार को भी केजरीवाल के समर्थन में ट्वीट किए, जिसे केजरीवाल ने रीट्वीट भी किया। सिन्हा ने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल की अपील के बाद मुझे उम्मीद है कि पीएम हस्तक्षेप करेंगे और हड़ताल खत्म होगी। ये उनकी तरफ से दिल्ली के लोगों और लोकतंत्र के लिए अच्छा कदम होगा। हजारों मील का सफर एक कदम से शुरू होता है। जय हिंद।’

इससे पहले शनिवार को किए गए ट्वीट में शत्रुघ्न सिन्हा ने चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों को अरविंद केजरीवाल से मिलने की इजाजत न देने के लिए एलजी की भी आलोचना की। उन्होंने लिखा कि अगर पश्चिम बंगाल, केरल, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्रियों को हमारे लोकप्रिय और पसंदीदा मुख्यमंत्री केजरीवाल से मिलने की इजाजत दे दी जाती तो कोई आसमान नहीं गिर जाता। यह बहुत सही वक्त है जब यह समझ जाना चाहिए वे मुख्यमंत्री हमारे देश के लोगों द्वारा इलेक्टेड (निर्वाचित) हैं न कि सेलेक्टेड। यह तानाशाही के एक प्रकार का नमूना है।

दिल्ली सरकार ने आईएएस अफसरों पर कथित तौर पर हड़ताल और असहयोग का आरोप लगाया है, वहीं आईएएस एसोसिएशन ने इस बात से इनकार किया है। पिछले कई दिनों से अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया समेत दिल्ली के कई मंत्री एलजी अनिल बैजल के आवास पर धरने पर हैं। इस संबंध में रविवार को आम आदमी पार्टी की तरफ से पीएम आवास का घेराव करने के लिए विरोध मार्च भी निकाला गया। मंडी हाउस से शुरू हुए इस मार्च को संसद मार्ग पर दिल्ली पुलिस ने रोक दिया। दिल्ली पुलिस का कहना था कि पार्टी ने प्रदर्शन की अनुमति नहीं ली है। अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी पर तानाशाही का आरोप लगाया।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved