fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

गोपाल यादव ने कहा- 2019 के लोकसभा चुनाव में अखिलेश और मायावती तय करेंगे किसके साथ करे गठबंधन

Akhilesh-and-Mayawati-will-decide-who-will be in coalition with the 2019 Lok Sabha elections

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए समजवादी पार्टी और बहुजन पार्टी एक हो सकते है। सुचना अनुसार समाजवादी पार्टी के नेता राम गोपाल यादव ने इस बात के संकेत देते हुए यह कहा की सभी जानते है की महागठबंधन बनाने जा रहा है। उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा सबसे ज्यादा जरूरी है। अखिलेश जी और मायावती जी ही तय करेंगे की गठबंधन किसके साथ करना है।

Advertisement

अगर पुराने हालातो को देखा जाए तो गोरखपुर और फुलपुल लोकसभा सीट पर उपचुनाव में बसपा उम्मीदवार को वोट देने की अपील की। कैराना लोकसभा उपचुनाव में रालोद उम्मीदवार को समाजवादी पार्टी बहुजन समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने समर्थन दिया। गौरतलब है की तीनो ही जगह भाजपा को हार का स्वाद चखना पड़ा था।

संकेत है की 2019 लोकसभा चुनाव में सपा बसपा रालोद या फिर सपा बसपा कांग्रेस रालोद के बिच गठबंधन हो सकता है और इस गठबंधन का सीधा असर भाजपा पर पड़ेगा। अगर विपक्षी एक साथ आते है तो 2014 की स्तिथि के हिसाब से भाजपा को 53 सीटों का नुकसान हो सकता है।

सपा-बसपा-कांग्रेस साथ लड़े तो 2014 की स्थिति के हिसाब से 60 सीटों पर डाल सकते हैं असर

कांग्रेस को छोड़कर सपा-बसपा भी साथ चुनाव लड़े तो 53 सीटों पर पड़ सकता है असर


उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा सीटें, 2014 में भाजपा गठबंधन ने 73 सीटें जीती थीं

इसी बात से भाजपा सरकार को परेशानी का सामना उठाना पड़ सकता है की किसी भी प्रकार का गठबंधन भाजपा के लिए एक बड़ी परेशानी बनेगी। इसका सीधा असर वोट बैंक पर पड़ सकता है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved