fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

औरंगाबाद: नोटबंदी के दौरान नक्सलियों ने भाजपा एमएलसी को बदलने के लिए दिए थे 5 करोड़ रुपए, पैसे न लौटाने पर किया हमला

Aurangabad:-During-the-demonetisation,-the-Maoists-had-given-Rs-5-crore-to-change-to-BJP-MLC,-naxal-Attacked-for-not-returning-the-money
(Image Credits: NewsroomPost)

बिहार के औरंगाबाद में कई नक्सली हमले हुए। इस नक्सली हमले में एक बड़ा खुलासा सामने आया है। नक्सलियों का आरोप है कि एक भाजपा एमएलसी ने उनके पांच करोड़ रुपए नहीं लौटाए जिसकी वजह से उन्होंने हमला कर दिया। नक्सलियों ने कहा है कि वे काफी समय से रकम लौटाने की बात करते रहे थे परन्तु वह रकम नहीं दे रहे थे , इसलिए उन्होंने उनके घर पर धावा बोल दिया, जिसमें करीब आधा दर्जन गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया था। हमले में राजन सिंह के चाचा को गोली लगी जिसके चलते उनकी मौत हो गयी ।

Advertisement

पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक घटना स्थल पर नक्सली एक पर्चा छोड़कर गए थे। जिसमें लिखा था कि नोटबंदी के दौरान बिहार विधान परिषद में भाजपा के सदस्य राजन कुमार सिंह को पांच करोड़ रुपए बदलने के लिए दिए थे. सिंह ने वह रुपए अभी तक नहीं लौटाए। इसके अलावा पर्चे में लिखा था कि लेवी के रूप में अलग से 2 करोड़ रुपए की वसूली हुई थी, जो सिंह के पास ही थे, वो पैसे भी नहीं लौटाए।

हालांकि, इस पर्चे के सामने आने के बाद सिंह ने इन आरोपों को खारिज कर दिया और कहा कि नक्सली मेरे खिलाफ दुष्प्रचार करने की कोशिश कर रहे हैं। साथ ही उनका कहना है कि नक्सली हमले की आशंका को लेकर वे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राज्य के पुलिस महानिदेशक से भी सुरक्षा की गुहार लगा लगा चुके हैं।  इसके अलावा सिंह ने कहा कि अगर वो नक्सली समर्थक होते तो उनकी पहले भी गाड़ियां जलाई गई हैं, वो नहीं होता।

हमले के बाद वहां जो पर्चा छोड़ा गया था साथ ही उसमें राजन सिंह की चल और अचल सम्पत्ति को ध्वस्त करने की बात कही गयी है। इसके अलावा यह भी कहा गया है कि हमारी लड़ाई भारतीय जनता पार्टी और संघ के आम कार्यकर्ताओं और उनके परिवार से नहीं है।

सुचना अनुसार, शनिवार देर रात बिहार के औरंगाबाद जिले के देव में नक्सलियों ने अचानक हमला कर दिया था। इस हमले के दौरान नक्सलियों ने बीजेपी के विधान पार्षद राजेंद्र कुमार सिंह के चाचा की गोली मारकर हत्या कर दी और इस हमले करीब छह गाड़िओं को आग के हवाले कर दिया गया । इस घटना में एक सामुदायिक भवन को भी विस्फोट से उड़ा दिया गया था। इतना ही नहीं, नक्लियों ने करीब 100 से ज्यादा राउंड फायरिंग भी की थी।


शनिवार देर रात नक्सली हथियार से लैस होकर इलाके में पहुंचे थे। नक्सलियों ने जमकर उत्पात मचाया और एक-एक कर के छह गाड़ियों को फूंक दिया। इस दौरान नक्सलियों ने जमकर फायरिंग की और उसके बाद नक्सलियों ने एक वृद्ध की गोलीमार कर हत्या कर दी थी। नक्सलियों के हमले की खबर मिलते ही सीआरपीएफ और पुलिस घेराबंदी में जुट गई थी। पीछा करने के दौरान नक्सलियों और पुलिस के बीच गोलीबारी भी हुई थी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved