fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

अयोध्या मामले पर CJI रंजन गगोई ने दिया बड़ा बयान, 18 अक्टूबर तक का इंतज़ार

ayodhya-land-dispute-case-supreme-court-hearing-arguments-october-18

अयोध्या भूमि विवाद मामले में 26वें दिन की सुनवाई शुरू हो गई है।  रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद में बुधवार को बड़ी खबर आई है । सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ में इस बात पर अभी मंथन चल रहा है कि सुनवाई पूरी होने में कितना समय लगेगा। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि हमें उम्मीद है कि हम अयोध्या राम जन्मभूमि मामले में 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी कर लेंगे।

Advertisement

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि एक महीने में बहस पूरी करने के लिए सभी पक्षों को कोशिश करनी पड़ेगी। उन्होंने कहा हमने जल्द से जल्द इस मामले की सुनवाई पूरी करनी होगी और अगर जरूरत पड़ी तो हम शनिवार को भी सुनवाई के लिए तैयार हैं। इसके बाद हमें फैसला लिखने के लिए चार हफ्तों का समय मिलेगा। रंजन गगोई ने कहा की सभी पक्षों को तय समय में सुनवाई पूरी करने के लिए प्रयत्न करना होगा ताकि सालो से चले आ रहे इस मामले पर सुनवाई पूरी की जा सके।

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि मध्यस्थता को लेकर भी हमे पत्र मिला। अगर दोनों पक्ष आपसी बातचीत से मसले का समझौता करना चाहते है तो इसे कोर्ट के समक्ष रखे। आप मध्यस्थता कर सकते हैं।  इसकी गोपनीयता बनी रहेगी। अगर जरूरत पड़ती है तो कोर्ट की सुनवाई को रोजाना एक घंटे के लिए बढ़ाया जा सकता है, इसके अलावा शनिवार को भी मामला सुना जा सकता है। अभी तक जारी सुनवाई में रामलला, हिंदू महासभा, निर्मोही अखाड़ा समेत अन्य हिंदू पक्षों के द्वारा बहस पूरी की जा चुकी है तो वहीं मुस्लिम पक्ष के वकील अपना जवाब दे रहे हैं। मुस्लिम पक्ष की ओर से वरिष्ठ वकील राजीव धवन अदालत में पक्ष रख रहे हैं।

इस मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ कर रही है। इसमें चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के अलावा जस्टिस एस. ए. बोबडे, जस्टिस डी. वाई. चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस. ए. नजीर शामिल हैं। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने तमाम पक्षों से कह दिया है कि अयोध्या विवाद में बहस 18 अक्टूबर तक खत्म कर ली जाएगी।

सुप्रीम कोर्ट ने तमाम पक्षों से वक्त के बारे में पूछा था सबके जवाब आने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने समय सीमा तय कर दी है। अब देखना यह है की क्या सुप्रीम कोर्ट सभी दलीलों को सुनकर 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी कर पायेगी या नहीं हालाँकि अगर 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी हो गई तो उसके बाद भी कोर्ट को फैसला लिखने के लिए कुछ समय चाहिए होता है जिसपर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा है फैसला लिखने के लिए चार हफ्ते का समय मिलेगा। 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved