fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर भाजपा सांसद ने कहा, रात 10 बजे बाद भी जलाऊंगा पटाखे चाहे जेल जाना पड़े

Chintamani Malviya

दिवाली पर बढ़ते पटाखों से प्रदुषण पर कुछ हद तक रोक लगाने के लिए माननीय सुप्रीम कोर्ट ने पटाखे जलाने पर कुछ नियम बनाये सुप्रीम कोर्ट ने दिवाली के समय रात 8 से 10 बजे के बीच ही पटाखे फोड़ने का आदेश है जबकि क्रिसमस और नए साल में रात के 11.55 से 12.30 तक ही पटाखे फोड़े जा सकेंगे।

Advertisement

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण की समस्या को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में चुनिंदा स्थानों पर ही पटाखे फोड़ने की इज़ाज़त दी है जिसकी पहचान भी कुछ दिनों में कर ली जाएगी।

सुप्रीम कोर्ट ने इस आदेश के बाद भी भाजपा के नेता का विवादित बयान आया है। उज्जैन से भाजपा सांसद चिंतामणि मालवीय ने कहा है कि वे तो रात 10 बजे के बाद ही पटाखे चलाएंगे, चाहे इसके लिए उन्हें जेल जाना पड़े। उन्होंने यह भी कहा कि हिंदू परंपरा में उन्हें किसी का भी दखल बर्दाश्त नहीं है।

भाजपा सांसद चिंतामणि मालवीय ने यह विवादित बयान मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उन्होंने फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर करते हुए कहा कि “मैं अपनी दीवाली परंपरागत तरीके से मनाऊंगा और रात में लक्ष्मी पूजन करके 10 बजे के बाद ही पटाखे चलाऊंगा। हमारी हिंदू परंपरा में किसी की भी दखलंदाजी हरगिज बर्दाश्त नहीं कर सकता। मेरी धार्मिक परंपराओं के लिए अगर मुझे जेल जाना पड़ा तो खुशी-खुशी जेल भी जाऊंगा।”


में अपनी दीवाली अपने परम्परागत तरीके से मनाऊंगा और रात में लक्ष्मी पूजन के बाद 10 बजे के बाद ही पटाखे जलाऊंगा । हमारी…

Posted by Chintamani Malviya on Tuesday, October 23, 2018

मालवीय शुरू से ही अपने विवादित बयान के लिए ही जाने जाते रहे है। केंद्र में बैठी सरकार चाहे कितने भी प्रदुषण रोकने के कानून बना ले पर जब उनके अपने ही सांसद इस तरह की हरकत करेंगे तोह समाज में क्या सन्देश जायेगा। भाजपा नेता सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की इस तरह से धज्जिया उड़ाते है की जिसका उदहारण सबके सामने है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved