fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

योगी आदित्यनाथ ने कहा- बुलंदशहर हिंसा शरारती तत्वों की साजिश थी, हमने की बेनकाब

cm-yogi-says-bulandshahr-violence-was-the-conspiracy-of-mischievous-elements

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने बुलंदशहर घटना को शरारती तत्वों की साजिश बताया और उन्होंने कहा की हमने इस घटना की साजिश करने वालो को बेनकाब किया है।

Advertisement

योगी ने कहा , “प्रदेश सरकार सख्ती के साथ ऐसे तत्वों से निपटेगी। प्रदेश में कानून का राज होगा। बुलंदशहर की घटना में शासन व प्रशासन निधि ने सख्ती से कार्रवाई की है।”

मुख्यमंत्री योगी ने बुलंदशहर हिंसा को शरारती तत्वों की साजिश बता कर किनारा करते नज़र आये। उन्होंने कहा की हमारी सरकार ने इस घटना को अंजाम देने वालो को बेनकाब किया है। विरोधियो को हमारी सरकार की तारीफ करनी चाहिए।

बुधवार को हुए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में योगी ने कहा की, “साजिश वही कर रहे हैं, जिन्होंने प्रदेश में जहरीली शराब बनाकर यहां के लोगों को मारने का प्रयास किया। यह राजनीतिक षडयंत्र था। इसे वे करते है, जो कि किसी चुनौती का सामना करने की स्थिति में नहीं है। पैरों के नीचे की जमीन खिसकती देख एक-दूजे को गले लगाने का प्रयास कर रहे हैं। वे निर्दोष लोगों को साजिश का शिकार बनाना चाहता है, पर प्रदेश सरकार ऐसा नहीं होने देगी।”

उन्होंने यह भी कहा की, “प्रदेश सरकार सख्ती के साथ ऐसे तत्वों से निपटेगी। प्रदेश में कानून का राज होगा। बुलंदशहर की घटना में शासन व प्रशासन निधि ने सख्ती से कार्रवाई की है। कानून के दायरे में रहते हुए प्रदेश सरकार ने बड़ी साजिश को बेनकाब किया है। जो गोकशी के जरिए दंगा कराना चाहते थे, उनके मंसूबे ध्वस्त हुए हैं। जो इस पर बयानबाजी कर रहे हैं, वे अपनी विफलता छिपाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्हें सरकार की सराहना करनी चाहिए।”


बुलंदशहर हिंसा के दौरान भीड़ के उग्र होने के कारण दो लोगो को अपनी जान से हाथ गवाना पड़ा था। हिंसा के दौरान मारे गए सुमित के परीजनों ने बुधवार को लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। सुमित के परिजनों ने सुमित को शहीद का दर्ज़ा देने की मांग योगी आदित्यनाथ ने सामने रखी है। उन्होंने इसके अलावा कहा- जिस तरह इंस्पेक्टर के परिवार वालों को आर्थिक मदद दी गई, वैसे भी हमें भी मुआवजा दिया जाए।

आपको बता दे की बुलंदशहर की घटना के दौरान भीड़ ने जमकर हंगामा किया बुलंदशहर के स्याना गांव में गोकशी की अफवाह पर भीड़ उग्र होकर बहुत बवाल किया, आसपास के इलाको में आग लगा दी गई , तोड़फोड़ की गई और उसी दौरान फायरिंग में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के सर में लोगी लगने से उनकी मृत्यु हो गई थी। साथ ही इस घटना में सुमित नाम के एक युवक की भी मौत हुई थी।

इस मामले की जांच स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) को सौंपी गई थी। वहीं, पुलिस कुल चार लोगों को इस केस में गिरफ्तार कर चुकी है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved