fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

नर्स ने गर्भवती महिला को अस्पताल से भगाया, गेट पर प्रसव के दौरान नवजात की मौत

Deliveryathospitalgate

कमलागंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है। सुचना अनुसार कमालगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर बुधवार सुबह गर्भवती का गेट पर ही प्रसव हो गया और नवजात बच्चे की मौत हो गई। परिजनों का आरोप है की स्टाफ नर्स भर्ती करने के बजाय गर्भवती महिला को धक्का देकर निकलने को कहा।  सीएमओ डॉ. अरुण कुमार किसी काम से बाहर गए थे परन्तु उन्होंने मामले की जांच का भरोसा दिया है।

Advertisement

भूलपुर चिरपुरा गांव के रहने वाले पुष्पेन्द्र का कहना है की उसकी रीतू को बुधवार सुबह करीब 11 बजे प्रसव पीड़ा हुई। पुष्पेन्द्र आशा कार्यकर्ता श्रीदेवी के साथ एंबुलेंस से पत्नी को 12 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचा। स्टाफ नर्स रश्मि ने भर्ती न करते हुए उसे लोहिया अस्पताल ले जाने के लिए कहा।

दूसरी स्टाफ नर्स का कहना था कि प्रसव दस मिनट में हो जाएगा, पर रश्मि ने लोहिया अस्पताल ले जाने की बात कहकर रीतू को धक्का देकर निकाल दिया। रीतू अपनी सास धन देवी और पति के साथ गेट तक पहुंची थी कि प्रसव हो गया।

आसपास की महिलाओं ने साड़ी से रीतू के आस पास घेरा बना दिया । प्रसव के दौरान नवजात बच्चे की मौत हो गई। रीतू के घर वालों ने आरोप लगाया है कि स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टर तमाशबीन बने रहे। प्रसव होने के बाद नर्स रश्मि बाहर आई और रीतू को ले जाकर भर्ती किया।

परिजनों का कहना है कि प्रसव के दौरान जमीन पर गिरने से नवजात बच्चे की मौत हो गई। नर्स रश्मि का कहना है कि रितू का चेकअप किया था। बच्चे की धड़कन न मिलने पर , उसे लोहिया अस्पताल रेफर किया था।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved