fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

ओडिशा में पेट्रोल से हुआ महंगा डीजल, सरकार की नीतियों पर उठे सवाल

pm-modi-on-petrol

ओडिशा सरकार ने रविवार को दावा किया कि राज्य में डीजल की कीमत पेट्रोल से अधिक है। बढती इन कीमतों पर राज्य में सत्ता पर मजबूत बीजू जनता दल ने केंद्र में बीजेपी सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा है की केंद्र सरकार का पेट्रोल-डीजल की कीमत तय करने का फॉर्मूला गलत है, जिसके कारण डीजल की कीमत पेट्रोल से अधिक करनी पड़ी।

Advertisement

केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ओडिशा से आने के पश्चात पेट्रोल-डीजल पर केंद्र सरकार के जरिये वसूले जा रहे एक्साइज ड्यूटी में कटौती का एलान किया। धर्मेंद्र प्रधान ने सभी  राज्यों से पेट्रोल-डीजल पर वैट में कटौती की अपील की परन्तु इस अपील को नजरअंदाज कर दिया गया और ओडिशा सरकार ने रविवार को यह दवा किया की राज्य में डीजल की कीमत पेट्रोल से अधिक है।

रविवार को बढे कीमतों के बाद एक लिटल डीजल की कीमत एक लीटर पेट्रोल से 12 पैसे अधिक है। ओडिशा में जहाँ डीजल 80.69 रुपये प्रति लीटर है वही पेट्रोल 80.57 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है।

ओडिशा स्थित उत्कल पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी संजय लाथ का कहना है की ऐसा पहली बार हुआ है कि राज्य में डीजल की कीमत पेट्रोल की कीमत से ज्यादा हो गई है। लाथ के अनुसार जहां देश में सभी राज्य पेट्रोल और डीजल की कीमत पर अलग-अलग दर से वैट लगाते हैं वहीं ओडिशा में दोनों पेट्रोल और डीजल पर 26 फीसदी की समान दर से वैट लगाया गया है।

वहीं डीजल की कीमत पेट्रोल से अधिक होने पर बीपीजी सरकार पर सवाल उठाया गया है जिस पर ओडिशा के वित्त मंत्री एस बी बेहरा ने दावा किया कि ऐसा केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के चलते डीजल-पेट्रोल से महंगा हुआ है। बेहरा ने दावा किया कि ऐसा भी संभव है कि तेल मार्केटिंग कंपनियों और केन्द्र सरकार ने कीमतों को निर्धारित करने में देखी-अनदेखी की है।


डीलर्स एसोसिएशन के मुताबिक डीजल की कीमत पेट्रोल से अधिक होने के कारण राज्य में डीजल की बिक्री कम होती जा रही है। पेट्रोल के मुकाबले महंगा होता डीजल राज्य सरकार के लिए भी चुनौतियां खड़ी कर रहा है।  बेहरा का कहना है कि डीजल की बिक्री में गिरावट के चलते जहां राज्यों में माल ढ़ुलाई के लिए लगी ट्रकों की रफ्तार कम हो जाएगी वहीं जरूरी उत्पाद की कीमतों में तेज़ी से बढ़ोतरी हो सकती है।

ओडिशा में बैठे विपक्ष कांग्रेस नेता आर्या ग्यानेंद्र ने केन्द्र सरकार पर डीजल के महंगे होने पर ताबड़-तोड़ सवालों का हमला किया, वहीं राज्य में बीजेपी जनरल सेक्रेटरी प्रथ्वीराज हरिचंदन का कहना है की राज्य सरकार वैश्विक स्तर पर महंगे होते कच्चे तेल को ध्यान में रखते हुए वैट की दरों में कटौती नहीं कर रही है जिससे आम आदमी को राहत पहुंचाई जा सके।

न्यूज़ क्रेडिट: आज तक
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved