fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

फेसबुक ने सैकड़ों बीजेपी और कांग्रेस के फर्जी अकाउंट्स और पेजों को किया बैन

Facebook-banned-congress-and-bjp-pages

राजनैतिक पार्टिया अपने चुनावी फायदों के लिए जनता के बीच सोशल मीडिया के जरिये प्रचार प्रसार करने का काम करती है और जैसे जैसे चुनाव नज़दीक आने लगते है वैसे ही सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम जैसे प्लेटफॉर्म पर अलग अलग पार्टी के चुनावी पोस्टो की बाढ़ सी आ जाती है। वही अब सोशल मीडिया इन सभी चीज़ो पर थोड़ा सख्त होता दिखाई दे रहा है।

Advertisement

चुनावी मौसम में फेसबुक ने अपने प्लैटफॉर्म का इस्तेमाल राजनीतिक फायदे या झूठी जानकारियां फैलाने से रोकने के लिए सोमवार को सैकड़ों अकाउंट्स और पेजों को हटा दिया था।
फेसबुक ने इस बार कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही पार्टियों से जुड़े खातों और पेजों के खिलाफ कार्रवाई की है। इसी क्रम में फेसबुक ने एक बीजेपी समर्थित पेज ‘ द इंडिया आई’ को भी हटा दिया था। इस पेज के 20 लाख से ज्यादा फॉलोअर थे।

फेसबुक ने कांग्रेस पार्टी से भी जुड़े 687 पेजों और अकाउंट्स को अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है  फेसबुक ने कहा कि इन पेजों और खातों द्वारा फेसबुक पर विज्ञापन के लिए करीब 27 लाख रुपये खर्च किए गए थे। पहला विज्ञापन अगस्त 2014 में चलाया गया था और हालिया विज्ञापन मार्च 2019 में चलाया गया। हालाँकि  कांग्रेस पार्टी से जुड़े 687 पेजों पर 2 लाख के करीब लोग जुड़े थे वही भारतीय जनता पार्टी के सिर्फ एक पेज पर ही 20 लाख से ज्यादा फॉलोअर थे।


उधर, रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा, ‘हमें फेसबुक रिपोर्ट की जांच करनी होगी। शायद पेज हमसे जुड़े न हों और शायद न्यूज रिपोर्ट ही सही न हो। हमें इस बात की सत्यता की जांच करनी होगी कि क्या फेसबुक पेज हमसे जुड़े हैं।’ 
फेसबुक ने यह भी बताया कि उसने मौजूदा सरकार बीजेपी द्वारा प्रमोट किए गए मोबाइल ऐप नमो से जुड़ी एक भारतीय कंपनी सिल्वर टच के कुछ अकाउंट्स को भी बैन कर दिया है। बाद में बीजेपी ने एक बयान में कहा कि न तो पार्टी का और न ही पार्टी के मोबाइल ऐप का इस कंपनी से कोई लेनादेना नहीं है

। बीजेपी के बयान के बाद देर रात जारी एक बयान में फेसबुक ने साफ किया कि उसे भी इस बात के कोई सबूत नहीं मिले हैं कि सिल्वर टच कंपनी फेसबुक के प्लेटफॉर्म पर नमो ऐप से जुड़ी है। 
बीजेपी के आईटी हेड अमित मालवीय ने रायटर्स से कहा कि सिल्वर टच कंपनी से न तो पार्टी और न ही नमो ऐप का कोई लेनादेना है। इसके बाद फेसबुक ने भी अपने पहले के बयान में संशोधन किया और फिर नया बयान जारी किया। इससे पहले प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस से जुड़े 549 फेसबुक अकाउंट्स और 138 पेजों को हटाने की खबरें आई थीं। फेसबुक ने साफ कहा है कि अप्रामाणिक व्यवहार के चलते कई पेजों और खातों को बंद किया गया है। 



आपको बता दें कि भारत में दुनिया में सबसे ज्यादा 30 करोड़ फेसबुक यूजर हैं। फेसबुक ने कहा कि उसने अपनी जांच में पाया है कि लोगों ने फेक अकाउंट्स बनाए और अलग-अलग ग्रुप्स से जुड़कर कॉन्टेंट को फैलाया और लोगों के बीच संपर्क बढ़ाने का काम किया। कांग्रेस से जुड़े अकाउंट्स हटाने को लेकर फेसबुक ने कहा कि इन फेक पेजों पर लोकल न्यूज के अलावा बीजेपी और पीएम नरेंद्र मोदी की आलोचना भी की जाती थी। 


फेसबुक के साइबर सिक्यॉरिटी पॉलिसी के हेड नाथनेल ग्लेचियर ने कहा, ‘इस गतिविधि में शामिल लोगों ने अपनी पहचान छिपाने की कोशिश की, लेकिन हमारी जांच में पाया गया कि यह कांग्रेस आईटी सेल से जुड़े लोगों से संबंधित है।’ उन्होंने कहा, ‘इनमें से ज्यादातर खातों को हमारी स्वचालित प्रणाली द्वारा रद्द किया जा चुका है।’ 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved