fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह: नरेंद्र मोदी की सरकार से भारत की परिकल्पना को खतरा, वादों से उठ चुका है भरोसा

manmohan singh and modi
(Image Credits: Free Press Journal)

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में एक बयान दिया। जिसमें उन्होनें कहा है। वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मतदाताओं की आकांक्षाओं को पूरा करने में असमर्थ रहें हैं। मनमोहन सिंह ने मोदी पर विश्वविद्यालयों जैसे राष्ट्रीय संस्थानो और केंद्रीय जाँच ब्यूरो का माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया है।

Advertisement

मनमोहन सिंह ने यह बयान कांग्रेस नेता शशि थरूर द्वारा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लिखी गई किताब ‘पैराडॉक्सिकल प्राइम मिनिस्टर : नरेंद्र मोदी एंड हिज इंडिया’ विमोचन के अवसर पर दिया। उन्होनें कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार से भारत की परिमकल्पना को खतरा है। और भारत के लोगो को उनकी बातों और वादों से भरोसा उठ चूका है।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा, “उनकी (मोदी) अगुवाई वाली सरकार व्यापक सांप्रदायिक हिंसा, मॉब लिंचिंग और गौ-रक्षण के आगे ज्यादातर चुप ही रहती है। हमारे विश्वविद्यालयों और सीबीआई जैसे राष्ट्रीय संस्थानों का माहौल दूषित हो गया है।” उन्होंने कहा, “आर्थिक मोर्चे पर कथित तौर पर विदेशों में पड़ा अरबों रुपये का काला धन वापस लाने के वादे जो किए गए थे, उस दिशा में कुछ नहीं हुआ। वहीं, जल्दबाजी में विमुद्रीकरण कर दिया गया। जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) अर्थव्यवस्था के लिए आपदा साबित हो रही है।”

इसके बाद उन्होनें बोला, “अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में गिरावट के बावजूद पेट्रोल और डीजल की कीमतें ऐतिहासिक ऊंचाई पर पहुंच गईं, क्योंकि मोदी सरकार ने तेल की कीमतें कम होने का लाभ भारत की जनता को देने के बजाय पेट्रोल और डीजल पर अत्यधिक उत्पाद कर लगा दिया।”

मनमोहन सिंह ने कहा मोदी की सरकार की उपलब्धि सिर्फ भारत की जनता से खोखले वादें करने में हैं। उन्होनें कहा की वर्तमान सरकार सिर्फ अक्खड़ फैसले लेती है।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved