fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

अंतराष्ट्रीय मिडिया ने बताया जम्मू-कश्मीर का सच, बीजेपी पर लगाया बड़ा इल्जाम

International-media-told-the-truth-of-Jammu-and-Kashmir,-a-big-blame-was-imposed -on-BJP
(image credits: vox)

जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा दिए जाने के बाद से ही बीजेपी यह दावा कर रही है की इस फैसले से जम्मू-कश्मीर में विकास होगा परन्तु कई ऐसी तस्वीरें सामने आई है जिससे यह पता चलता है की की जम्मू-कश्मीर में हालात सुधरे नहीं है। हालांकि विशेष दर्जा दिए जाने के बाद से देश के लोगो में खुशियां तो है परन्तु कई ऐसे पक्ष है जिन्होंने बड़े सवाल खड़े किए है।

Advertisement

द न्यूयोर्क टाइम्स ने भी एक रिपोर्ट प्रकाशित की है जिसमे जम्मू-कश्मीर के हालातो को बताया गया है। जम्मू कश्मीर विशेष दर्जा दिए जाने के बाद से घाटी में तनाव का माहौल है। हालांकि भारत सरकार और प्रशासनिक अमलों द्वारा बताया जा रहा है कि जम्मू कश्मीर में हालात सामान्य हैं और हिंसा की छोटी मोटी घटनाएं ही हुई हैं। वहीं विदेशी मीडिया का इस मामले पर कुछ और ही कहना है। दरअसल बीबीसी के बाद अब द न्यूयॉर्क टाइम्स ने भी जम्मू कश्मीर के हालात पर एक रिपोर्ट प्रकाशित की है, जिसमें जम्मू कश्मीर में हिंसा होने की बात कही गई है।

बता दें कि द न्यूयॉर्क टाइम्स ने इनसाइड कश्मीर ,कट ऑफ़ फ्रॉम द वर्ल्ड : “अ लिविंग हेल ” ऑफ़ एंगर एंड फियर शीर्षक से एक रिपोर्ट पेश की है। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि शनिवार को कश्मीर में घाटी में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुए हैं। इस दौरान भारतीय सुरक्षाबलों और स्थानीय लोगों को बीच हिंसक झड़प की भी खबर है। रिपोर्ट के अनुसार, शुक्रवार को भी हजारों की तादाद में लोग सड़कों पर उतरे थे और उनकी सुरक्षाबलों के साथ झड़प भी हुई थी।

रिपोर्ट के अनुसार, कुछ स्थानीय लोगों के अनुसार, दर्जनभर युवा गायब हैं। बता दें कि इससे पहले बीबीसी ने भी अपनी एक रिपोर्ट में जम्मू कश्मीर में हिंसा होने का दावा किया था। अपने इस दावे के साथ ही बीबीसी ने एक वीडियो भी शेयर किया था। जिसमें बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी सड़कों पर दिखाई दे रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार, इस दौरान हिंसक झड़प हुई और सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले और पैलेट गन का भी इस्तेमाल किया।

वहीं घाटी को विशेष दर्जा दिए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और उसने इसके विरोध में भारत के साथ कूटनीतिक संबंधों के स्तर को घटा दिया है और भारत के राजदूत को वापस भी भेज दिया है। इसके साथ ही पाकिस्तान ने समझौता एक्सप्रेस, थार एक्सप्रेस और भारत के साथ किसी भी तरह के व्यापार पर रोक लगा दी है। पाकिस्तान जम्मू कश्मीर के मुद्दे पर दुनियाभर से समर्थन जुटाने की कोशिश कर रहा है। हालांकि अभी तक उसे इसमें कुछ खास सफलता नहीं मिली है।


 ऐसा लग रहा है की बीजेपी की तरफ से शांति की तस्वीरों के बिलकुल उलट तस्वीरें देखने को मिल रही है। जहां बीजेपी दावा कर रही है की वह शान्ति है परन्तु जम्मू-कश्मीर में इस समय हालात कुछ और ही बनते दिखाई दे रहे है। नेशनल दस्तक यह दावा नहीं करता की जम्मू कश्मीर में समय क्या हालात है। परन्तु कई लोगो  बयानों और हालातो को समझने के बाद यही मालुम होता है की हालात सुधरने में काफी समय लगेगा। इस प्रकार बीजेपी के दावे भी कहीं न कहीं झूठे साबित हो रहे है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved