fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

आखिर क्यों हाउडी मोदी में PM मोदी को अमेरिकी सांसद की बीवी से मांगनी पड़ी माफी, जानें पूरा मामला

know-why-in-Howdy-Modi,-PM-Modi-had-toapologize-to-American-MP's-wife,-know-the-whole-matter
(image credits: moneycontrol)

अमरीका में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम हाउडी मोदी से अजीबो गरीब मामला सुनने को मिल रहा है। दअसल कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री मोदी द्बारा वहां के एक सीनेटर जॉन कॉर्निन की पत्नी से माफ़ी मांगने का मामला सामने आया है। बता दे की जॉन कॉर्निन अपनी पत्नी के साथ हाउड़ी मोदी के कार्यकम्र में शरीक होने के लिए पहुंचे थे।

Advertisement

इसी दौरान उन्होंने सीनेटर की पत्नी सैंडी से माफ़ी मांगी। पीएम मोदी ने कहा, ‘मैं आपसे माफी मांगना चाहूंगा क्योंकि आज आपका जन्मदिन हैं और आपके जीवनसाथी मेरे साथ हैं. स्वाभाविक रूप से आपको आज मुझसे जलन हो रही होगी.’ साथ ही उन्होंने कहा, ‘आपको शुभकामनाएं, मैं आपके सुखद जीवन और बेहद समृद्ध शांतिपूर्ण भविष्य की कामना करता हूं. शुभकामनाएं.’

बता दें की टेक्सास से सीनेटर जॉन कॉर्निन और सैंडी की शादी को 40 वर्ष हो चुके हैं और उनकी दो बेटियां हैं. कॉर्निन ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में शिरकत करने वाले प्रमुख रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक सांसदों में से एक थे। मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रम्प ने यहां 50,000 से अधिक भारतीय-अमेरिकियों को संबोधित किया था।

वहीँ दूसरी और अमेरिकी राष्ट्रपति राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एनआरजी स्टेडियम में रविवार को संपन्न हुए बहुप्रतीक्षित “हाउडी, मोदी” कार्यक्रम के बाद 50,000 भारतीय-अमेरिकियों के प्रति अपना आभार प्रकट करते हुए कहा कि अमेरिका को भारत से प्रेम है।

यह पहली बार था जब ट्रंप और मोदी ने साथ मंच साझा किया और रिकॉर्ड 50,000 भारतीय-अमेरिकियों को संबोधित किया. ट्रंप ने एक संक्षिप्त ट्वीट किया, “अमेरिका भारत से प्रेम करता है.” उन्होंने ह्यूस्टन में एनआरजी स्टेडियम के जोशपूर्ण माहौल को “अद्भुत” बताया।


आपको बता दें की प्रधानमंत्री मोदी ने अमरीका में आने वाले चुनाव को देखते हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की तारीफ की, इसके साथ ही उन्होंने लोगो को सम्बोधन करते हुए “अबकी बार ट्रम्प सरकार” का भी नाम लिया। वहीँ बताया जा रहा है की प्रधानमंत्री द्वारा ऐसा करना कथित तौर से विदेश निति का उल्लंघन है। मोदी द्वारा उस विदेश निति का उल्लंघन किया गया है जिसमे दूसरे देश के चुनावी सन्दर्भ में दखल देने का मामले आते है।

कॉग्रेस नेता आनंद शर्मा ने इसे विदेश निति का उल्लंघन बताया, और कहा नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री के रूप में वहां गए हैं, न की राष्ट्रपति ट्रम्प के प्रचारक बनकर। ऐसा करके उन्होंने भारत और अमेरिका दोनों ही देशो के विदेशी नीति का उल्लघन किया है।

काँग्रेस नेता आनंद शर्मा की माने तो प्रधानमंत्री मोदी द्वारा इस प्रकार विदेश निति का उल्लंघन उचित नहीं है। यहाँ देखने वाली बात यह होगी की जिस प्रकार उन्होंने अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प के लिए चुनावी प्रचार करने की कोशिश की है ,वहीँ अगर कल को किसी दूसरे देश के नेता भारत में कांग्रेस या किसी और विपक्षी दल के लिए प्रचार करे तो बीजेपी सरकार किस प्रकार प्रतिक्रिया करेगी?

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved