fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

100 से ज्यादा फिल्म प्रोड्यूसर्स ने बीजेपी को वोट न करने की अपील की !

Over-100-film-producers-appealed-to-not-vote-for-BJP!
(Image Credits: The News Minute)

भारतीय फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े करीब 100 लोगों ने शुक्रवार को देश के नागरिकों से 2019 लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को वोट नहीं देने अपील की।

Advertisement

फिल्म प्रोड्यूसर्स ने एक वेबसाइट ‘WWW.ARTISTUNITEDINDIA.COM’ पर यह अपील पोस्ट की है. देशभर में फिल्म निर्माण समुदाय से जुड़े करीब 100 से ज्यादा कलाकारों ने Save Democracy( लोकतंत्र बचाओ) नाम से एक अभियान चलाया है। इस अभियान के तहत कलाकारों ने आगामी (2019) लोकसभा चुनाव में बीजेपी को वोट ना देने की लोगों से अपील की है।

इस अभियान में मुख्य तौर पर भाजपा के शासनकाल में दलितों, मुसलमानों और किसानों का हाशिए पर होना, सांस्कृतिक और वैज्ञानिक संस्थानों के लगातार क्षरण सहित उनपर बढ़ती सेंसरशिप को भी इस अभियान को शुरु करने के कारणों में गिनाया है। साथ ही इस अभियान से जुड़े लोगो के द्वारा बताया गया की भाजपा और उसके सहयोगी अपने चुनावी वादों को निभाने में बुरी तरह विफल रहे हैं। वे अब देश को सांप्रदायिक रूप से विभाजित करने के लिए भीड़-भाड़ और गाय सतर्कता का उपयोग कर रहे हैं।”

इन फिल्म निर्माताओं में अधिकतर इंडिपेंडेंट सिनेमा बनाने के लिए जाने जाते हैं. ये अपील करने वालो में बड़े नाम जैसे वेत्री मारन, आनंद पटवर्धन, सनलकुमार शशीधरन, सुदेवन, दीपा धनराज, गुरविंदर सिंह, पुष्पेंद्र सिंह, कबीर सिंह चौधरी, अंजलि मोनटिअरो, प्रवीण मोरछाले, दोवाशीष मखीजा, आशिक अबु और फिल्म संपादक बीना पॉल शामिल हैं।

इनके स्टेटमेंट में कहा गया है,की “हमारा देश अबतक के सबसे मुश्किल समय से गुजर रहा है. सांस्कृतिक रूप से जीवंत और भौगोलिक रूप से विविध, हम एक देश के रूप में हमेशा एकजुट रहे हैं. इस बेहतरीन देश का नागरिक होना हमेशा महान एहसास रहा है.. लेकिन अब ये सब कुछ दांव पर है.” “अगर हम आगामी लोकसभा चुनाव में बुद्धिमत्ता के साथ सरकार नहीं चुनेंगे तो फासिस्टवाद का खतरा अपनी पूरी ताकत के साथ हमपर हमला करेगा.”


देश में ‘ध्रुवीकरण की मुहिम और घृणा राजनीति, गोरक्षा के नाम पर हिंसा, दलितों, मुसलमानों और किसानों को हाशिये पर ढकेले जाने और सेंसरशिप के बढ़ने’ का हवाला देते हुए फिल्ममेर्कस द्वारा जारी बयान में कहा गया है की , “जैसा की हम सब जानते हैं कि भाजपा जब से सत्ता में आई है, चीजें बदल गई हैं और यह बदतर होती जा रही हैं. अगर कोई भी उनसे जरा सी भी असहमति जताता है तो उसे देशद्रोही ठहरा दिया जाता है.”

बयान की समाप्ति एक अपील के साथ की गई, “हम आप सभी से हानिकारक सरकार को सत्ता में आने से रोकने के लिए आपकी क्षमता के हिसाब से सबकुछ करने का आग्रह करते हैं. आप ऐसी सरकार चुनें जो भारत के संविधान का आदर करे और सभी प्रकार की सेंसरशिप से परहेज करे.”

इस अभियान में भाजपा द्वारा देश के लोकतंक को जो ख़तम करने का जो प्रयास किया जा रहा है, और भाजपा सरकार की सांप्रदायिक राजनीती से देश को मुक्त कराने के लिए ही इस अभियान को चलाया जा रहा है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved