fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

बीजेपी कार्यकर्ता की शर्मनाक हरकत, शहीद जवान के कॉफिन के साथ सेल्फी लेते नजर आये

The-shameful-move-of-the-BJP-worker,-have-been-seen-taking-selfie-with-the-martyr-coffin
(Representational Image) (Image Credits: NDTV)

पुलवामा हुमले को लेकर काफी सियासी जंग छिड़ी हुई है। इस जंग के घेरे में BJP सरकार घिरती नजर आ रही है। कही BJP के कार्यकर्ता शहीद जवान के कॉफिन के साथ सेल्फी नजर लेते आये तो कोई शोक सभा में ठहाके लगाकर हसते नजर आये। यहाँ तक मोदी भी जवानो की शहादत भूल वह अपनी रैली में चले गए थे। यहाँ तक की खुद को गमगीन बताने वाले सऊदी अरब के प्रिंस के साथ शूटिंग कर रहे थे। इस बात पर विपक्ष ने काफी ताने भी मारे।

Advertisement

पर लगता है BJP सरकार के कार्यकर्त्ता अपनी हरकातो से बाज नहीं आ रहे । पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवान अजय कुमार का अंतिम संस्कार बुधवार को मेरठ में किया गया। उनके अंतिम संस्कार में परिजनों के साथ भाजपा नेता और मंत्री भी शामिल हुए थे। उनमें एक उत्तर प्रदेश के मंत्री चप्पल पहनकर आए थे। इसे लेकर शहीद के परिजनों ने गुस्सा किया। बाद में वहां मौजूद दूसरे लोगों के साथ उन्हें भी जूता खोलना पड़ा।

एनडीटीवी खबर के मुताबिक अजय कुमार का अंतिम संस्कार मेरठ के IIT कॉलेज के खेल मैदान में हो रहा था। भीड़ को देखते हुए पुलिस ने चिता के आसपास बैरिकैडिंग लगा दी थी। अंतिम संस्कार में केंद्रीय राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह, उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह और मेरठ से भाजपा विधायक राजेंद्र अग्रवाल शामिल हुए थे। वे बैरिकैडिंग के अंदर जाकर बैठ गए थे।

जूता पहने भाजपा के विधायक का वीडियो सोशल मीडिया में काफी तेज़ी वायरल हो रहा है। इसके चलते लोगो का गुस्सा उन पर फुट रहा है। इस वीडियो में शहीद जवान के परिजन उनपर गुस्स्सा होते नजर आ रहे है। लोगो ने भी अपना गुस्सा जाहिर किया है, आखिर कैसे कोई किसी के अंतिम संस्कार में जूता पहन कर जा सकता है। लोग इसे शहीद का अपमान मान रहे है।

नवभारत टाइम्स के मुताबिक अजय कुमार के अंतिम संस्कार के दौरान भाजपा नेताओं को जूते पहनकर चिता के पास बैठने पर सबको विरोध का सामना करना पड़ा। गुस्से से भड़के लोगों ने वहां मौजूद केंद्रीय राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह के साथ अन्य नेताओं का विरोध किया।


इस घटना के बाद लोगो का कहना है की भाजपा सरकार शहीदों का अपमान कर रही है। इस घटना को मिडिया के कैमरे में कैद कर लिया गया जिसके बाद सिद्धार्थनाथ सिंह के साथ कई नेताओं ने जूते उतारे।

आज तक में छपे खबर के अनुसार सोशल मीडिया में कुछ तस्वीरें तेज़ी से वायरल हो रही है। तस्वीरों में केंद्रीय राज्यमंत्री सत्यपाल सिंह अजय कुमार के अंतिम संस्कार के दौरान हंसते हुए नजर आ रहे हैं। उनके साथ स्थानीय नेता भी मौजूद थे।

अंतिम संस्कार में भाजपा नेताओ का यूँ हसना शहीद के परिजनों को रास नहीं आया। उन्होंने खूब गुस्सा किया जिसके चलते केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह हाथ जोड़कर लोगों से माफी मांगी। यही नहीं सत्यपाल सिंह के साथ वह और भी नेता जुते पहन कर मौजूद थे। लोगो को गुस्से में देख उन लोगो को भी जूते उतरने पड़े।

मेंरठ के अलावा ऐसी ही एक घटना ओड़िशा में भी हुआ। पुलवामा हमले में शहीद जवान मनोज बेहेरा के अंतिम संस्कार के दौरान BJP के स्थानीय विधायक देबाशीष सांमत्रेय उनके परिजनों के साथ बदसलूकी करते नजर आए। विधायक ने इस दौरान शहीद जवान के चाचा को धक्का दिया और उन्हें जबरन पार्थिव शरीर के पास बैठने को कहा।

14 फरवरी को पुलवामा में RPF के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था जिसमे CRPF के 48 जवान शहीद हो गए थे और अन्य घायल भी। उसके बाद सोमवार को तलाशी के दौरान मुठभेड़ हुई जिसमे 4 जवान शहीद हो गए साथ ही एक आम नागरिक भी।

यह समझना मुश्किल है की आखिर कब तक मोदी सरकार यूँ ही शहीद जवानो का अपमान करती रहेगी। क्या सरकार का हक़ नहीं बनता की उनकी सुरक्षा का भी इंतजाम हो। या फिर सिर्फ जवानो की शाहदत पर सिर्फ राजनीति करना ही भाजपा सरकार की निति है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved