fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

पश्चिम बंगाल के रेलवे स्टेशन पर भगदड़ होने पर 2 लोगो की मौत जबकि 14 घायल

santragaachi train accident

यह खबर पश्चिम बंगाल के हावड़ा की है जहाँ एक बड़ी दुर्घटना हुई है। सूत्रों के अनुसार यह घटना हावड़ा के संतरागाछी स्टेशन पर हुई है। एक साथ दो ट्रेनों के प्लेटफॉर्म पर आने के कारण भगदड़ मच गयी। लोग प्लेटफॉर्म 2 से 3 की ओर भागने लगे। इससे स्टेशन पर बने फुटओवर ब्रिज पर अफरा तफरी मच गयी।  इस भगदड़ में 2 लोगो की मौत हो गयी जबकि 14 लोग घायल हो गए। घायलों को पास के अस्तापलो में जल्द से जल्द पहुँचाया गया। यह घटना मंगलवार ( 23 अक्टूबर ) शाम को हुई।

Advertisement

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घटना स्थल पहुँच वहां का जायजा लिया और रेलवे पर हमला करते हुए सवाल उठाये है की एक ही ट्रेक पर दो ट्रेन आने की घोषणा कैसे की गयी।  दक्षिण पूर्व रेलवे के प्रवक्ता ने बताया यह घटना उस समय हुई जब एक एक्सप्रेस ट्रेन और 2 ईएमयू लोकल ट्रेन एक ही समय  पर करीब 6:30  बजे आयी और यात्री ट्रैन पर चढ़ने के लिए स्टेशन पर आने लगे। इस घटना में मरने वाले लोगो को ममता बनर्जी ने 5 लाख और घायलों को 1 लाख रूपये देने का एलान किया।

साऊथ-ईस्ट रेलवे के प्रवक्ता संजय घोष का कहना है की नागरकोइल-शालीमार एक्सप्रेस और दो ईएमयू ट्रेने एक ही वक्त पर स्टेशन पर आगयी। वही शालीमार-विशाखापत्तनम एक्सप्रेस और संतरागी-चेन्नई एक्प्रेस कुछ ही देर में स्टेशन पहुँचने वाली थी। संजय घोष का कहना की दूसरे पर प्लेटफॉर्म पर जाने के लिए यात्रियों के बीच होड़ मच गयी। एक तरह से यात्री चढ़ रहे थे वहीं दूसरी तरफ से यात्री उतर रहे थे। देखते देखते यह भीड़ भगदढ में शामिल हो गयी और स्तिथि गंभीर हो गयी। इस हादसे के तुरंत बाद रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिया जो इस प्रकार से है। 032221072 ( खड़गपुर ), 03326295561  ( संतरागाछी ), यात्रियों के  शिकायत के अनुसार उनका कहना है की यह घटनाएं आये दिन होती है। परन्तु मंगलवार शाम को एक ही प्लेटफॉर्म पर दो ट्रेन की घोषणा होने कारण भगदड़ मची जिसके चलते यह हादसा हुआ।


आनन-फानन में रेलवे ने इस घटना की जाँच के आदेश दे दिए है। सीएम ममता बनर्जी ने रेलवे पर सवाल उठाते हुए कहा की ‘में रेल मंत्री रही हु मुझे काम करने का तरीका पता है।यह लापरवाही रेलवे की तरफ से हुई है। ऐसी घटनाएं को हो रही है इसकी प्रशासनिक जांच कराई जाएगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved