fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

पहले दलित, फिर मुसलमान और अब भाजपा के मंत्री ने हनुमान को बताया जाट

yogi-adityanath-cabinets-minister-laxmi-narayan-chaudhry-called-him-jaat

भगवान् हनुमान को भाजपा के मंत्रियो ने ना जाने क्या समझ लिया है। कभी मुख्यमंत्री आदित्यनाथ हनुमान को दलित बताकर राजनीति कर रहे है,  तो वही भाजपा के मंत्री बुक्कल नवाब ने हनुमान को मुसलमान बता दिया। इतना ही नहीं आज ही योगी सरकार के मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण ने भगवान् हनुमान को अब जाट बता दिया है।

Advertisement

भाजपा के मंत्री खुद ही समझ नहीं पा रहे है की हनुमान को किस समुदाय का बताया जाए इसलिए उनके अलग अलग मंत्री हनुमान को अपने हिसाब से जाति और धर्मो में बांटने की कोशिश में लगे है। पहले दलित और फिर मुसलमान बताए जाने के बाद अब उन्हें जाट करार दिया गया है।

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार में धर्मार्थ कार्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने गुरुवार (20 दिसंबर) को विधान परिषद में प्रश्नकाल के बीच कहा, “दूसरों के फटे में जो टांग अड़ाता है, वही जाट हो सकता है। हनुमान मेरी जाति के थे।” बता दें कि लक्ष्मी नारायण जाट हैं। इस बयान को सुनकर सदन में हल्ला मच गया कुछ हंसे तो कुछ लोग चौंक गए, मगर कुछ ही पलों बाद सदन में इस टिप्पणी को लेकर हो-हल्ला मच गया। बाद में वहां हिंदू देवी-देवताओं के अपमान से संबंधित प्रस्ताव पेश किया गया।

हालाँकि, चर्चा मे सदन के नेता डॉ.दिनेश शर्मा ने कहा की चुनावी माहौल होने के कारण ऐसे बयानबाज़ी हो रही है और फिज़ूल के मुद्दों को उठाया जा रहा है। अब उसकी तरफ से सदन में गलत बयानबाजी हो रही है। हमारी ओर से इस बारे में स्पष्टीकरण दिया जा चुका है। सभापति ने इसके बाद प्रस्ताव कबूलने से मना कर दिया।

धर्मार्थ कार्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान कहा की, “मैंने इतना कहा था- हम किसी भी स्वभाव से यह पता करते हैं कि वह किसके वंशज होंगे। जैसे वैश्य जाति को लेकर हम मानते हैं कि वह अग्रसेन के वंशज हैं। कारण- महाराजा अग्रसेन स्वयं व्यापार करते थे। ऐसे ही जाट का स्वभाव का स्वभाव होता है कि अगर किसी के साथ अन्याय हो, तो वह बगैर बात के, जान-पहचान के बिना वह उसमें कूद पड़ता है। जिस तरह भगवान राम की पत्नी सीता का अपहरण हुआ, अब हनुमान उसमें दास के रूप में बीच में शामिल हुए। हनुमान जी की प्रवृत्ति जाटों से मिलती है, लिहाजा मैंने कहा कि हनुमान जाट ही होंगे।”

इससे पहले भी कई बार भगवान् हनुमान को लेकर बयानबाज़ी चलती रही है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) विधायक बुक्कल नवाब ने कहा था, “हनुमान मुसलमान थे, लिहाजा मुस्लिमों के नाम हनुमान जैसे रखे जाते हैं। मसलन रहमान, रमजान, फरहान, सुलेमान, सलमान, जिशान और कुर्बान…ये जितने भी नाम रखे जाते हैं, वे करीब-करीब उन्हीं के नाम पर रखे जाते हैं।”

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved