fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

मूर्ति बनाने के लिए योगी ने हड़पी ग्रामीणों की ज़मीन, विरोध करने पर जेल में डाला

/yogi-adityanath-in-ayodhya-police-detain-several-landowners

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का विरोध करना कई लोगो को अब भारी पड़ गया है और अब उन्हें जेल की हवा खानी पड़ रही है। अयोध्या में मीरापुर दोआबा में सीएम योगी आदित्यनाथ के पहुंचने से पहले कुछ लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन स्थानीय निवासियों ने किया। उन्होंने भाजपा पर यह आरोप लगाया कि भगवान राम की प्रतिमा के लिए सरकार ने जो भूमि अधिग्रहण की है उसका उन्हें समुचित मुआवजा नहीं मिला।

Advertisement

उत्तर प्रदेश प्रशासन ने भगवान् राम की मूर्ति बनाने के लिए स्थानीय निवासियों की ज़मीन को अधिकृत कर लिया और मुआवज़े के तौर पर उन्हें सिर्फ आधी ही रकम दी गई।  सरकार द्वारा भूमि अधिग्रहण करने को लेकर वह के लोगो ने मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ का विरोध प्रदर्शन किया। 

वही विरोध करना उन सबको भरी पड़ गया। प्रदर्शन में शामिल होने वाले करीब आधा दर्जन लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। जानकारी के मुताबिक, सीएम योगी के यहां से जाने के बाद इन्हें छोड़ा जाएगा। मीरापुर दोआबा स्थित भूमि जिस पर भगवान राम की प्रतिमा लगी है, वहां के निवासियों ने अपना विरोध दर्ज कराया है।  उन्होंने अपने हाथों में विरोध में लिखे नारे की तख्तियां लेकर भूमि अधिग्रहण में समुचित मुआवजा ना मिलने को लेकर आक्रोश जताया है। 

इसी दौरान पुलिस ने 6 से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि इन सबको मुख्यमंत्री के अयोध्या से जाने के बाद छोड़ा जाएगा।  भूमि अधिग्रहण में पारदर्शिता को लेकर हाईकोर्ट गए याचिकाकर्ता अवधेश सिंह को भी अयोध्या की कोतवाली पुलिस ने अपनी कस्टडडी में ले ली है।  पुलिस इस पर कुछ बोलने से इनकार कर रही है। ग्रामीणों का आरोप है कि प्रशासन भूमि अधिग्रहण को लेकर पारदर्शी व्यवस्था नहीं कर रहा है।  

अयोध्या आगमन के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मीरापुर दोआबा में उस स्थान का निरीक्षण करेंगे, जहां फटिक शिला के पास भगवान राम की भव्य प्रतिमा स्थापित की जानी है।  इसके बाद वे दिगंबर अखाड़ा जाकर अपने गुरु महंत अवैद्यनाथ के मित्र और राम मंदिर आंदोलन में प्रमुख भूमिका निभाने वाले रामचंद्र परमहंस के आश्रम दिगंबर अखाड़ा आएंगे। 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved