fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

UP बोर्ड की परीक्षाओं में कई छात्रों ने जवानो के नाम पर मांगे नंबर

In-the-UP-Board-examinations,-many-students-demand-number-in-the-name-of-the-jawans
(Representational Image) (Image Credits: The Indian Express)

आजकल हमारा देश कुछ अलग ही राह पर चलता दिखाई दे रहा है देश के युवा की भी मानसिकता अब उसी प्रकार से बदलती नज़र आ रही है हाल ही हुई पुलवामा घटना का मौजूदा मोदी सरकार को जमकर फ़ायदा हुआ मोदी सरकार ने पुलवामा हमले का इतना प्रचार किया कि अब छात्र इसे ढाल बनाकर बोर्ड परीक्षाओं में पास कराने की गुहार लगा रहे हैं. उत्तर प्रदेश के कई छात्रों ने अपनी कॉपी में लिखा है कि उसे अच्छे नंबर से पास कराया जाए, ताकि वह बड़ा होकर सेना का जवान बन सके।

Advertisement

उत्तर प्रदेश में 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं में कई छात्रों ने सेना का जवान बनने की इच्छा जताकर ज्यादा नंबरों की मांग की है. जहा किसी समय पर हमे यह देखने को मिलता था की परीक्षाओं में कई छात्र शिक्षकों को पैसे का लालच देकर या अपनी निजी ज़िंदगी में चल रहे किसी वजह को कॉपी में लिखकर, मर जाने की ऐसी तमाम हरकते करके शिक्षकों से परीक्षा में अपने नंबर बढ़वाने की मांग करते थे।

वही आजकल छात्रों को यह पता चल चूका है की देश में एक नया ही माहौल चल रहा है जिसपर सभी इमोशनल हो जायेंगे वह है हमारे देश के जवान जिनपर आजकल सभी राजनीती करने में लगे है और बस अपने हित के लिए है कुछ समय तक उन्हें याद करते है फिर भुला दिया जाता है। बस इसी बात का फ़ायदा अब कुछ छात्रों ने भी उठाना शुरू कर दिया है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक बोर्ड की परीक्षाओं की कॉपी जांचने वाले एक शिक्षक ने बताया है, “इस साल भी छात्रों ने परीक्षा की कॉपी में खूब अनाप-शनाप लिखा है. पुलवामा घटना के बाद आयोजित कई परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं में छात्रों ने ग़ैरजरूरी बातें लिखी हैं.” टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक एक छात्र ने लिखा है, “पूजनीय गुरुजी, मैं देश सेवा के लिए जवान बनना चाहता हूं, देश के साथ आपके बच्चों की भी दुश्मनों से रक्षा करना चाहता हूं. एक बार नंबर देने से पहले अपने बच्चों के बारे में सोचिए.”

बताइए कैसे यह छात्र सरेआम ऐसे बाते अपनी परीक्षा कॉपी में लिख रहे है 10वीं और 12वीं के यह छात्र जो की इस देश का भविष्य है उनकी मानसिकता पर कैसा असर पंहुचा है की अब वह भी यह सोंच कर चल रहे है की देश के जवानो के नाम पर जहा राजनैतिक पार्टिया ब्लैकमेल करने का काम करती है वही अब वह परीक्षा में भी प्रयोग करने लगे है।


इतना ही नहीं एक अन्य छात्र ने लिखा है, “गुरुजी अगर मैं फ़ेल हुआ तो देश फ़ेल होगा, क्योंकि आप एक होने वाले जवान को फ़ेल करोगे. फिर देश की रक्षा कौन करेगा?” देश के जवानो को लेकर आप या हम इन छात्रों को दोषी नहीं मान सकते पर हम यह उनकी बस एक शरारत मात्र बोल कर इन बातो को नज़रअंदाज़ भी नहीं कर सकते।

हमे इस बात पर गौर करने की जरुरत है की आखिर देश में ऐसा माहौल बना ही क्यों है जहा यह छात्र अब परीक्षाओ में देश के वीर जवानो को सहारा लेने के लिए मजबूर हो गए है। यह सारे सवाल हमे इन छात्रों से नहीं बल्कि मौजूदा सरकार से पूछने चाहिए वह हर बात में देश के वीर जवानो को अपनी घटिया राजनीती के लिए प्रयोग कर रही है और उसी का असर आज हर जगह देखने को मिल रहा है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved