fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

जस्टिस काटजू ने मौजूदा दौर की तुलना हिटलर के शासनकाल से की, साथ ही दी यह चेतावनी

Justice-Katju-compared-the-current-era-to-Hitler's-reign,-along-with-this-warning
(image credit: scroll.in)

विवादित बयान से सुर्खियों में रहने वाले जस्टिस मार्कण्डेय काटजू ने एक बार फिर से एक बयान दिया है। दरअसल उन्होंने वर्तमान में मौजूदा सरकार के कार्यकाल को हिटलर से तुलना किया है। काटजू ने न्यूज़ वेब साइट पंजाब टुडे में अपना ओपिनियन लिखते हुए देश को चेताया है कि संभल जाओ इंडिया, बुरे दिन आने वाले हैं।

Advertisement

ऐसा कहकर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज और प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के चेयरमैन रहे जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने भारतवासियो को चेतावनी दी है। उन्होंने अपने लेख में लिखा है कि आज भारत में वैसा ही कुछ हो रहा है जो कभी नाजी युग के दौरान जर्मनी में हुआ था। काटजू ने लेख में बताया है कि जनवरी 1933 में हिटलर के सत्ता में आने के बाद लगभग पूरा जर्मनी पागल हो गया था, हर तरफ लोगों ने ‘हेल हिटलर’ के नारे लगते हुए उस पागल आदमी को महान बना दिया था।

उन्होंने लिखा जर्मनी में बहुत से संस्कारी लोग है, जिन्होंने मैक्स प्लैंक और आइंस्टीन जैसे महान वैज्ञानिक, गोएथे और शिलर जैसे महान लेखक, हेइन जैसे महान कवि आदि दिए। साथ ही उन्होंने मोजार्ट, बाख और बीथोवेन जैसे महान संगीतकार, मार्टिन लूथर जैसा महान समाज सुधारक, किंत, नीत्शे, हेगेल और मार्क्स जैसा महान फिलोसोफर दिए जाने की बात कही हैं।

काटजू ने बताया सत्ता में आते ही हिटलर ने जर्मनी के लोगों के दिमाग में यहूदियों के खिलाफ जहर घोलना शुरू कर दिया था। ये कैसे हुए? निश्चित रूप से जर्मन में बेवकूफ लोग नहीं हैं, न ही वे स्वाभाविक रूप से बुरे हैं। मुझे लगता है हर देश, समाज, धर्म के 99% लोग अच्छे होते हैं। इसके साथ ही उन्होंने में इस देश में हुई बड़ी घटना के पीछे मॉडर्न प्रोपेगंडा को जिम्मेदार ठहराया।

काटजू ने कहा जो जर्मनी में हुआ वह अब भारत में हो रहा है। इसके पीछे उन्होंने मौजूदा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। चुनाव से पहले बालाकोट में की गई एयर स्ट्राइक और घाटी को लेकर लिए गए फैसले का प्रोपेगंडा का हिस्सा बताया। इसके आलावा सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने कहा की, लोकसभा चुनाव में महत्वपूर्ण मुद्दे जैसे बेरोजगारी, बाल कुपोषण जनता के लिए उचित स्वास्थ्य सेवा और अच्छी शिक्षा जैसे अहम मुद्दे गायब थे। इसके साथ ही उन्होंने देश में मौजूदा हालात और कई मुद्दे को लेकर सरकार पर निशाना साधा।


मालूम हो की इससे पहले फारुख अब्दुल्ला और आम आदमी पार्टी के मंत्री अरविन्द केजरीवाल ने भी PM मोदी की तुलना हिटलर से की। इतना ही नहीं काँग्रेस मंत्री पी चिदंबरम और मल्लिका अर्जुन खड़गे ने भी कुछ इसी प्रकार प्र्धानमंन्त्री के बारे में बयान बाजी किया, जिसको लेकर बीजेपी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इसपर पलटवार किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved