fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

मुकेश अम्बानी ने किया कांग्रेस उम्मीदवार का समर्थन, बेटा अनंत हुआ मोदी की रैली में शामिल

Mukesh-Ambani's-support-to-Congress-candidate,-son-Ananta-Honey-joins-Modi-rally

जाने माने उद्योग पति मुकेश अम्बानी और प्रधानमंत्री मोदी आपस में दोस्त की तरह जाने जाते है। अक्सर जब भी दोनो के बीच आपसी मुलकात होती है तो अधिकतर दोनों के रिश्तो में गर्मजोशी देखने को मिलता है। लेकिन इस लोकसभा चुनाव में मोदी के दोस्त माने जाने वाले ने बीजेपी छोड़ कांग्रेस उम्मीदवार का समर्थन करते दिखाई दे रहे है।

Advertisement

दरअसल देश के सबसे अमीर शख्स, कारोबारी और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन व एमडी मुकेश अंबानी ने कुछ दिनों पहले मुंबई दक्षिणी लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी मिलिंद देवड़ा का समर्थन किया था। वहीं दूसरी ओर मुकेश अम्बानी के बेटे अनंत देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैली में शामिल हुए। उनके बेटे अनंत शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैली में श्रोताओं में बैठे हुए देखा गया।

न्यूज एजेंसियों, टीवी चैनल्स और सोशल मीडिया पर रैली में पहुंचने के दौरान की उनकी कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं। हालाँकि रिपोर्ट में कहा गया की अम्बानी के बेटे अनंत वहां प्रधानमंत्री मोदी को सुनने के लिए पहुंचे थे।

मुकेश अम्बानी द्वारा कांग्रेस प्रत्याशी मिलिंद देवड़ा का समर्थन और तारीफ करना ऐसे समय पर देखा जा रहा है, जब देश के सबसे अमीर कारोबारी के भाई अनिल अंबानी पर राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस लगातार जुबानी निशाने साध रही है। इससे पूर्व कांग्रेस उम्मीदवार ने मिलिंद देवड़ा ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें मुकेश अंबानी उनकी तारीफ करते हुए देखे जा सकते है।

शुक्रवार को रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर खूब निशाना साधा,उन्होंने दावा किया कि इन लोकसभा चुनावों में कांग्रेस को 50 सीटें भी नहीं मिलेंगी। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने अपने दावे के समर्थन में एक सर्वेक्षण रिपोर्ट का उल्लेख किया। मोदी ने कहा, ‘‘अपना मत खराब मत करिये। बेहतर होगा उस पार्टी के लिये वोट करें जो सत्ता में आ रही है और आप अपने मत से उसे मजबूती दे सकते हैं।’’


मोदी ने आगे कहा, ‘‘अब एक मात्र सवाल यह है कि क्या भाजपा 2014 के मुकाबले अपनी सीटों की संख्या और बेहतर करने जा रही है।’’ इस प्रकार का बयान देकर प्रधानमंत्री मोदी ने अप्रत्य्क्ष रूप से अपनी पार्टी के लिए वोट माँगा है। आचार सहिंता लागू होने के बाद भी बीजेपी इस प्रकार के हरकतों से बाज नहीं आ रही है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उस पर पुलिस बलों की अनदेखी करने और उन्हें सत्ता में रहने के दौरान ‘‘पंचिंग बैग’’ के तौर पर इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। प्रधानमंत्री मोदी की इस रैली में महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस, शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के चीफ रामदास आठवले भी शामिल थे।

उद्योगपति मुकेश अम्बानी द्वारा लोकसभा चुनाव में बीजेपी की बजाय कांग्रेस उम्मीदवार का समर्थन देना कुछ अटपटा सा लगता है। इतना ही नहीं उन्होंने कुछ दिनों पहले उनकी कांग्रेस उम्मीदवार की तारीफे भी की थी। इन सभी बातो से क्या हमे यह समझ लेना चाहिए की,प्रधानमंत्री मोदी के दोस्त उनका साथ छोड़ रहे है।

बता दें की मुकेश अम्बानी द्वारा कांग्रेस उम्मीदवार को समर्थन करना उस समय पर आया है, जब विपक्षी पार्टी कांग्रेस मुकेश अम्बानी के भाई अनिल अम्बानी को राफेल सौदे को लेकर कई आरोप लगा रही है। दरअसल राफेल सौदे को लेकर लगभग सभी विपक्षी पार्टियों ने बीजेपी और अनिल अम्बानी पर हेराफेरी करने का आरोप लगाया था। परन्तु सभी विपक्षी पार्टियों में कांग्रेस ने इस सौदे को लेकर मौजूदा सरकार पर जमकर निशाना साधा था।

परन्तु विपक्षी पार्टी कांग्रेस द्वारा आरोप लगाने के बावजूद मुकेश अम्बानी का कांग्रेस उम्मीदवार की तारीफ करना हैरान करने वाला लगता है। कांग्रेस उम्मीदवार को समर्थन के पीछे क्या कारण हो सकते हैं ये हम नहीं कह सकते हैं। खैर उद्योगपति मुकेश अम्बानी द्वारा कांग्रेस उम्मीदवार को समर्थन करना उनकी अपनी निजी पसंद हो सकती है। लेकिन राफेल सौदे पर मौजूदा सरकार से विपक्षी पार्टियों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब देना सरकार की जिम्मेदारी बनती है।

मौजूदा सरकर हर बार विपक्षी पार्टियों के सवालो से नहीं बच सकती है। एक समय आएगा जब मौजूदा सरकार को राफेल सौदे से जुड़े सभी सवालों को जवाब देना पड़ेगा। और अगर बाद में भी मोदी सरकार इन सवालों के ठीक ठीक जवाब नहीं देती है तो इससे मौजूदा सरकार की नीयत के प्रति लोगो का शक और अधिक गहरा जाएगा।

खैर अब तो देश में चुनाव भी लगभग सभी जगहों पर शुरू हो चुके हैं। और इसके साथ साथ देश की जनता ने भी बीजेपी सरकार की सभी विफलताओं को भाप लिया हैं। फ़लस्वरूप देश के प्रधानमंत्री के रूप में किसे चुनना है, लोगो ने इसका भी निर्णय कर लिया है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved