fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

पेट्रोल डालकर जिन्दा जलाई गई दलित छात्रा संजलि का देर रात किया गया अंतिम संस्कार

Sanjali's-last-rites-performed-at-the-late-night,-the-Dalit-girl-burnt-alive-by-pouring-gasoline
(Image Credits: theguru.sg)

उत्तर प्रदेश आगरा में दलित छात्रा संजलि को पेट्रोल डालकर जिन्दा जला दिया गया था। देर रात संजलि के गांव में लालऊ के श्मसान घाट पर उसका अंतिम संस्कार करा गया। अंतिम संस्कार के दौरान भीम आर्मी के सदस्यों ने हंगामा किया। वह एक करोड़ मुआवजा देने की मांग कर रहे थे। पुलिस ने उन्हें बलपूर्वक रोका परन्तु इसके बाद भी वह हंगामा करते रहे। भीम आर्मी के सदस्य संजलि के शव के साथ ही दिल्ली आये थे।

Advertisement

पुलिस द्वारा किया गया बल का प्रयोग

भीम आर्मी के सदस्य नौकरी और मुवाअजा की मांग कर रहे थे। वे लोग शव का अंतिम संस्कार नहीं होने देना चाहते थे। उन्होनें इसको लेकर हंगामा शुरू कर दिया और नारेबाजी करने लगे। जैसे ही पुलिस ने शव को अंतिम संस्कार के लिए उठाया भीम आर्मी के सदस्य उसे रोकने लगे। इस देखकर पुलिस ने उन्हें रोका और बल का प्रयोग किया। आखिरकार पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच दलित छात्रा संजलि का अंतिम संस्कार करा दिया। गांव में फिलहाल भारी सुरक्षा व्यवस्था है।

आखिर क्या हुआ था संजलि के साथ

यह घटना 18 दिसंबर, 2018 को थाना मलपुरा के गांव लालऊ की है। जब कुछ अज्ञात हमलावरों ने दलित छात्रा संजलि को पेट्रोल डालकर जिन्दा जला दिया था। दिल्ली में 20 दिसंबर को इलाज के दौरान संजलि की मौत हो गई। दिल्ली में शव का पोस्टमार्टम होने के बाद संजलि का शव 21 दिसंबर को देर शाम गांव में लाया गया।


क्या हुआ था गांव में

इस घटना से आक्रोशित हुए गांववाले शाम को अपना आपा खो बैठे और उन्होनें एकाएक करके संजलि के शव को उठाया और सड़क की ओर दौड़ने लगे। इस दौरान गांववालो ने मुख़्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी की। जब पुलिस अधिकारियों को इसकी जानकारी मिली कि गांववाले शव को लेकर भाग रहे हैं तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। पुलिस अधिकारियों ने जैसे तैसे करके इस मामले को शांत कराया।

छावनी में तब्दील हुआ गांव

लालऊ गांव को पुलिस ने छावनी तब्दील कर रखा है। पुलिस अधिकारियों ने भी गांव में डाला हुआ है। यह माना जा रहा है की पुलिस इस घटना के बारे में आज खुलासा कर सकती है। पुलिस अपना शक आत्महत्या करने वाले चचेरे भाई पर जता रही है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved