fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

IAS बनने वाली केरल की पहली आदिवासी लड़की बनी श्रीधन्या

The-first-tribal-girl-from-Kerala-who-became-IAS
(Image Credits: Hindustan Times)

संघ लोकसेवा आयोग 2018 ( UPSC Civil Services Result 2018) के फाइनल परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं। शुक्रवार को UPSC ने केंद्रीय सेवाओं के साथ-साथ भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय विदेश सेवा, भारतीय पुलिस सेवा के नतीजे घोषित किए थे। UPSC में इस बार कनिष्क कटारिया ने टॉप किया है।

Advertisement

वहीं, वायनाड की श्रीधन्या सुरेश (Sreedhanya Suresh) यूपीएससी परीक्षा पास करने वाली केरल की पहली आदिवासी महिला बन गई है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने श्रीधन्या को उनकी इस सफलता पर बधाई दी है।

राहुल गांधी ने वायनाड की श्रीधन्या को बधाई देते हुए ट्वीट  किया, ‘वायनाड की श्रीधन्या सुरेश, केरल की पहली आदिवासी लड़की हैं जिनको सिविल सेवा के लिए चुना गया है। श्रीधन्या की कड़े परिश्रम और समर्पण ने उनके सपने को सच करने में मदद की। श्रीधन्या और उनके परिवार को मैं बधाई देता हूं और उनकी शानदार सफलता की कामना करता हूं।’ राहुल गांधी केरल की वायनाड लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।

परिणाम सामने आने के बाद श्रीधन्या ने मीडिया से कहा, ‘मैं राज्य के सबसे पिछड़े जिले से हूं. यहां से कोई आदिवासी आईएएस अधिकारी नहीं हैं, जबकि यहां पर बहुत बड़ी जनजातीय आबादी है. मुझे आशा है कि यह आने वाली पीढ़ियों के लिए सभी बाधाओं को दूर करने में एक प्रेरणा का काम करेगी.’ केरल के कुल 29 छात्रों ने इस साल सिविल सेवा परीक्षा उतीर्ण की है. मुख्यमंत्री ने इन सभी को बधाई दी है. केरल के वायनाड जिले की रहने वाली 22 साल की श्रीधन्या सुरेश ने सिविल सेवा परीक्षा 2018 में 410 वीं रैंक हासिल की है।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved