fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

जिस व्यक्ति ने म्यूनिसिपल्टी नहीं संभाला उसे यूपी का CM बना दिया, जानिए बीजेपी का बड़ा खुलासा

The-person-who-did-not-take-the-municipality-made-the-Chief-Minister-of-UP,-know-the-BJP's-big-disclosure
(image credits: NDTV.com)

सभी जानते है की उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार होने के बावजूद वहां क्राइम काफी तेज़ी से बढ़ रहा है। सरकार जितनी भी अपनी तारीफ़ करे और क्राइम कम होने की बात करे परन्तु सभी लोग जानते है की यूपी में क्राइम ज्यादा बढ़ रहे है। ऐसे में भाजपा सरकार आने के बावजूद वहां अपराध तेज़ी से बढ़ते रहे। ऐसे में जिस व्यक्ति ने कभी म्यूनिसिपल्टी नहीं संभाला उस व्यक्ति को बीजेपी ने मुख्यमंत्री का पद दे दिया।

Advertisement

जी हाँ हम बात कर रहे है योगी आदित्यनाथ की जो यूपी के मुख्यमंत्री है। यूपी में बीजेपी सरकार आने के बाद से ही मानो अपराध ने अपने पैर फैलाने शुरू कर दिए। ऐसे में योगी आदित्यनाथ हमेशा ही यूपी में अपराध कम होने की बात करते रहे परन्तु सच्चाई सबके सामने आती रही। बीजेपी और योगी ने अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए हमेशा ही लोगो से झूठे वादे किये। 

ऐसे में बीजेपी अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह ने भी अपनी योगी की झूठी तारीफ़ करते हुए काफी कुछ कहा। यहाँ तक की उन्हें सीएम क्यों बनाया गया, इसका भी खुलासा किया। हालांकि इस खुलासे में कितना झूठ कितना सच यह तो बीजेपी ही जानती है। 

बीजेपी अध्यक्ष और देश के गृह मंत्री अमित शाह ने  उत्तर प्रदेश में अपने एक कार्यक्रम के दौरान इस राज से पर्दा उठाया कि योगी आदित्यनाथ को यूपी का सीएम क्यों बनाया गया। लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि किसी ने सोचा नहीं था कि योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे।

अमित शाह ने एक तरफ़ा पक्ष लेते हुए कहा की, लोग हमें फोन कॉल कर कह रहे थे कि योगी ने म्यूनिसिपल्टी तक नहीं संभाला, ना ही वह कभी मंत्री रहे हैं, वह केवल संन्यासी हैं और उन्हें इतने बड़े राज्य का सीएम बना दिया गया। अमित शाह ने योगी की झूठी तारीफो के पूल बांधते हुए कहा कि  मुझे और पीएम मोदी को उस समय एक ही चीज ध्यान में थी कि हमें उत्तर प्रदेश चलाने के लिए कोई कर्मठ और हर परिस्थितियों से लड़ने में सक्षम और योग्य  हो। इसलिए हमने सूबे की कमान योगी जी के हाथ में दी और उन्होंने इस फैसले को सही साबित किया।


साल 2017 में बीजेपी को उत्तर प्रदेश में  बड़ी जीत हासिल हुई थी। बहुमत मिला था।  इस चुनाव में बीजेपी ने मुख्यमंत्री पद के लिए चेहरे के बिना चुनाव लड़ा था और जीत भी हासिल की थी। चुनाव परिणाम के बाद अटकलें लगाई जाने लगी की सूबे का सीएम कौन होगा। योगी आदित्यनाथ का नाम शुरू से चर्चा में था, लेकिन मनोज सिन्हा और राजनाथ सिंह के नाम को लेकर भी चर्चाएं थी। हालांकि पार्टी कैडर में योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता के चलते उन्हें सूबे का सीएम बनाया गया। परन्तु सीएम बनने के बाद यूपी में अपराधों के बढ़ने को लेकर कुछ नहीं किया गया। खुले आम यूपी में गुंडागर्दी ने अपना सर उठा रखा है। 

बता दें कि  गोरखधाम मंदिर के मुख्य पुजारी रहे योगी का इस पद के लिए चुना जाना कई लोगों के लिए हैरान करने वाला था। हालांकि योगी की छवि राज्य में हिंदुत्व के पोस्टर ब्वाय के रूप में बन चुकी थी और बीजेपी ने इसका भी फायदा उठाया और उन्हें  उत्तर प्रदेश का सीएम बनाया। आज कल हर जगह भगवा रंग ही दीखता है ऐसे में लोग भगवा रंग और राम का नाम लेकर गुंडागर्दी कर रहे है। 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved