fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

मुस्लिम और गैर मुस्लिम में भेदभाव करती है मोदी सरकार: ओवैसी

Asaduddin-Owaisi-and-PM-MODI

एआईएमआईएम (AIMIM) के प्रमुख असुद्दीन ओवैसी ने फिर एक बार मोदी सरकार पर हमला किया है और पूछा है,  मुस्लिम और गैर मुस्लिम में फर्क क्योँ करती है है मोदी सरकार।

Advertisement

ऑल इंडिया मजलिस ऐ इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआई एमआई एम) के सांसद और अध्यक्ष असुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला है। और इस बार वो सुप्रीम कोर्ट के फैसले से सम्बंधित टिपण्णी करते है  पर उनका इशारा मोदी सरकार ही है। हाल ही में  भारत के उच्तम न्यायालय ने  समलैंगिकता और व्यभिचार के कानून पर अपना फैसला सुनाया है जिस पर असुद्दीन ओवैसी ने विरोध जताते हुए करारा हमला किया है।

3-thalaq

उन्होनें तीन तलाक पर आये सुप्रीम कोर्ट के फैसले से सम्बंधित अपना पक्ष सामने रखा है और कहते है की सुप्रीम कोर्ट ने कभी भी ये नहीं कहा है की तीन तलाक गैर सवैंधानिक है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने धारा 377 और धारा 497 को गैर सवैंधानिक घोषित कर दिया है। इसी फैसले को लेकर ओवैसी कहते है की, आखिर क्यों मोदी सरकार गैरमुस्लिम को एक साल की सजा और मुस्लिम को 3 साल की सजा देने के पक्ष में है।

क्या इन फैसलों से सीखेगी मोदी सरकार


ओवैसी ने सुप्रीम कोर्ट के 377 और 497 के फैसले पर अपने प्रक्रिया देते हुए मोदी पर हमला किया है और पूछा है क्या मोदी सरकार सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से कुछ सीखेगी।  इसके बाद वो कहते है की क्या मोदी सरकार तीन तलाक पर लाया गया अध्यादेश वापस लेगी। ओवैसी ने कहा की हम सरकार की तरफ से तीन तलाक पर लाये गए अध्यादेश का पुरजोर विरोध करते है। ये मुस्लिम महिलाओं के बिल्कुल खिलाफ है।

 TALAQ

असुद्दीन ओवैसी का कहना है की सरकार जो कानून बनाने जा रही है, वह खुद भारतीय कानून के खिलाफ है।  इस कानून के अनुसार जिस महिला को तलाक दिया गया है उसे कोर्ट में जाकर सबुत देंना होगा की इस व्यक्ति ने मुझे तलाक दिया है। और ओवैसी कहते है की कौन सा परिवार ऐसा होगा जो कोर्ट में उस महिला को जाने देगा। इस अध्यादेश  का गलत इस्तेमाल होगा, इस्लाम में शादी निकाह कोई जन्म जन्म का साथ नहीं होता है बल्कि हमारे कानून में यह एक कॉन्ट्रैक्ट होता है। ओवैसी ने कहा की बीजेपी सरकार सिर्फ जुमले दे रही है। हमारी मोदी जी से गुजारिश है की सरकार इस कानून को वापस ले।

3 Comments

3 Comments

  1. subhash Chandra

    September 29, 2018 at 3:22 pm

    हर दिन ७५००० व महीने २० लाख मृत्यु वाले भारत में ऐसा क्या है की एक दर्दनाक मर्त्यु के कारण,गले सडे सिस्टम, भ्र्स्ट तंत्र की कोई बहस नहीं होती है रोम अथवा विश्व गुरु, सोने की चिडया भारत का निर्माण एक दिन में संभव नहीं होता | ऐसा लोकतंत्र बार बार नहीं आता,क्यों मिट गया दुनिया के नक़्शे से प्राचीन आर्य व्रत, नालंदा, तक्षिला हिमालय, कंधार से बौद्ध धरम, भगवान बुध की शिक्षा ही नहीं अपितु ज्ञान -विज्ञान ++++ ,जो राष्ट्र ,इतिहास ठोकरों से सबक नहीं लेते उनका विकास,उत्थान नहीं, विनास होता है | सोचिये, बिना किसी विकल्प,विकास केवल नेता,अपराधी,क्या कोई और मोदी का विकल्प ????

  2. subhash Chandra

    September 29, 2018 at 3:53 pm

    Jihadi needs to know about One Nation & One Law – One Rule | Educated will not tolerate any more Divide & Rule Or Draconian Partisan Laws +++& Injustice, in the Land Of Aryavart i.e. Hindu Bharat

  3. subhash Chandra

    September 29, 2018 at 3:53 pm

    रोम अथवा विश्व गुरु, सोने की चिडया भारत का निर्माण एक दिन में संभव नहीं होता | ऐसा लोकतंत्र बार बार नहीं आता,क्यों मिट गया दुनिया के नक़्शे से प्राचीन आर्य व्रत, नालंदा, तक्षिला हिमालय, कंधार से बौद्ध धरम, भगवान बुध की शिक्षा ही नहीं अपितु ज्ञान -विज्ञान ++++ ,जो राष्ट्र ,इतिहास ठोकरों से सबक नहीं लेते उनका विकास,उत्थान नहीं, विनास होता है | सोचिये, बिना किसी विकल्प,विकास केवल नेता,अपराधी मोदी बीजेपी को गाली देने को सवतंत्र हैं | दुनिया के २०० करोड़ इस्लाम अनुयाई ओसामा, हाफिज, अंसारी की सहिषुणता , अब्दुल्लाओं के बर्बर प्रश्न से कस्ट नहीं होता- नेहरू वंश/गांधी के राहुल/मिस्टर क्लीन के परिवार की ८५पै”९५ पैसा /रू” अथार्थ ९५% जनता का धन ६७ वर्षों की आजादी के दौरान भ्रस्टाचार की बलि चढ़ता रहा कांग्रेसी उनके दलाल हड़प व में एक से अधिक राज में केवल मात्र एक अंतररष्ट्रीय स्तर AIIMS , वो भी अमेरिकन भीख से बना- मोदि सरकार के राज में पुरे देश में 10 AIIMS बनने शरू हो गएँ हैं | हर दिन ७५००० व महीने २० लाख मृत्यु वाले भारत में ऐसा क्या है की एक दर्दनाक मर्त्यु के कारण,गले सडे सिस्टम, भ्र्स्ट तंत्र की कोई बहस नहीं होती है रोम अथवा विश्व गुरु, सोने की चिडया भारत का निर्माण एक दिन में संभव नहीं होता || सोचिये, बिना किसी विकल्प,विकास के धूर्त,समाज को बांटने के अपराधी,भ्रस्टाचार के प्रतीक,क्या कोई ओर मोदी का विकल्प दे सक्तं हैं ??

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved